Advertisement

  • इन अलग-अलग तरह के टैटू की मदद से बढ़ाये अपने अंगों की खूबसूरती और दिखे स्टाइलिश

इन अलग-अलग तरह के टैटू की मदद से बढ़ाये अपने अंगों की खूबसूरती और दिखे स्टाइलिश

By: Megha Sat, 08 Sept 2018 1:51 PM

इन अलग-अलग तरह के टैटू की मदद से बढ़ाये अपने अंगों की खूबसूरती और दिखे स्टाइलिश

टैटू बनवाने का शौक आजकल बढ़ता ही जा रहा है जिसे देखो वो टैटूसे अपने आपको स्टाइलिश और फैशनेबल बनाना चाहता है। टैटू बनवाने में दर्द बहुत होता है लेकिन यह आज के युवाओं का फैशन बनता जा रहा है। टैटू की रंग बिरंगी डिजाईन जब शरीर पर उकेरी जाती है तो इन से अंगो की खूबसूरती और भी बढ़ जाती है। कुछ लोग ऐसे होते है जिन्हें अस्थायी टैटूपसंद होते है, तो कुछ को स्थायी टैटू पसंद होते है। ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं टैटू के विभिन्न प्रकार, जिनसे आप अपना फैशन ट्रेंड दिखा सकते है तो आइये जानते है इस बारे में...

* अस्‍थायी टैटू

ये टेटू अस्थायी होते है। या यूँ कहे की ये असमय के लिए बनाये जाते है। इनसे इंफेक्शन का खतरा काफी अधिक होता है क्योंकि इन्हें बनाने वाले प्रोफेशनल नहीं होते। इसलिए इन्हें अस्थायी समय के लिए बनवाया जाता है।

fashion trends,tattoo,types of tattoo,tattoo styles,cosmetic tattoo,temporary tattoo,mehandi tattoo ,टैटू , स्‍टीकर टैटू, मेहंदी टैटू, धार्मिक टैटू, कॉस्मेटिक टैटू, अस्‍थायी टैटू , फैशन टिप्स, टैटू स्टाइल

* धार्मिक टैटूज


कुछ लोगो को अपनी आस्था को हर समय दिखाना अच्छा लगता है। इसलिए वह ऐसे टेटू बनवाते है जिनमे भगवानो के चित्र सम्मिलित होते है।


* कॉस्मेटिक टैटू

इस तरह के टेटू शरीर की बनवत को ही चेंज कर देते है। जिनकी वजह से आपकी खूबसूरती और भी बढ़ जाती है।

fashion trends,tattoo,types of tattoo,tattoo styles,cosmetic tattoo,temporary tattoo,mehandi tattoo ,टैटू , स्‍टीकर टैटू, मेहंदी टैटू, धार्मिक टैटू, कॉस्मेटिक टैटू, अस्‍थायी टैटू , फैशन टिप्स, टैटू स्टाइल

* स्‍टीकर टैटू

ये टैटू बच्‍चों को बहुत भाते हैं, बच्‍चों के मनचाहे डिजाइन वाले टैटू बाजार में उपलब्ध हैं। इसे बनाने के लिए केवल मनचाहे डिजाइन वाले तथा कपडों से मैच करते स्‍टीकर शरीर के जिस हिस्से पर टैटू बनाना है वहां चिपका देते हैं, उसके ऊपरी हिस्से पर थोडा सा पानी लगाकर फिर हटा देते हैं।


* मेहंदी टैटू

मेहँदी की डिजाईन में भी टेटू बनवाए जाते है। इसके लिए शरीर के किसी भी हिस्से पर डिजाईन बनाया जाता है।

Advertisement