Advertisement

  • ब्रेन ट्यूमर से ग्रस्त है ‘सुपर 30’ का असली हीरो

ब्रेन ट्यूमर से ग्रस्त है ‘सुपर 30’ का असली हीरो

By: Rajesh Thu, 11 July 2019 3:19 PM

ब्रेन ट्यूमर से ग्रस्त है ‘सुपर 30’ का असली हीरो

बिहार के चर्चित शिक्षक आनंद कुमार की जिन्दगी पर बनी फिल्म ‘सुपर 30 (Super 30) ’ का प्रदर्शन कल 12 जुलाई को होने जा रहा है। इस फिल्म को लेकर दर्शकों में जबरदस्त उत्साह नजर आ रहा है। हर किसी को बेसब्री से इंतजार है। आनन्द कुमार के रूप में परदे पर ऋतिक उनका किरदार निभा रहे हैं। हाल ही में एक इंटरव्यू में आनंद कुमार ने चौंकाने वाला खुलासा किया है। उन्होंने बताया कि वह ब्रेन ट्यूमर की बीमारी से जूझ रहे हैं।

न्यूज एजेंसी एएनआई को दिए इंटरव्यू में आनंद कुमार से जब सवाल किया गया कि उन्होंने इतनी कम उम्र में अपनी बायोपिक के लिए सहमति क्यों दे दी, तो वह बोले, ‘ये इच्छा तो हमारे फिल्म राइटर की थी, प्रोड्यूसर की थी। वो लोग चाहते थे कि हम जल्दी से जल्दी परमिशन दें। जिंदगी और मौत का कोई भरोसा नहीं है, तो हम चाहते थे कि जब तक हम जीवित हैं, उस परिस्थिति में अगर बायोपिक बनती है तो ज्यादा अच्छा रहेगा।’

# ‘गली बॉय’ का कमाल: 10वाँ साल, 16 फिल्में, 28 पुरस्कार, बॉलीवुड के नए सरताज

# ‘पिंक’ के बाद ‘बधाई हो’ को रीमेक करेंगे बोनी कपूर, 4 भाषाओं में होगी प्रदर्शित

आनन्द कुमार को दायें कान से कम सुनाई देता है

एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार, आनंद कुमार ने बताया कि कुछ साल पहले उन्हें सुनने में परेशानी होने लगी थी। मेडिकल जांच के बाद उन्हें पता चला कि उनका दायां कान के सुनने की क्षमता 80 से 90 फीसदी तक खत्म हो गई है। ईएनटी ट्रीटमेंट के बाद भी उन्हें कोई फायदा नहीं हुआ। साल 2014 में वह इस सिलसिले में दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल आए थे। यहां के डाक्टरों ने उन्हें बताया कि उनके कान में कोई परेशानी नहीं है, लेकिन इसकी जो नस दिमाग से जुड़ती है वहां ट्यूमर है।

# ‘मैं सिर्फ योग्य उम्मीदवारों को मौका देता हूँ’: सलमान खान

# फिल्म निर्माण के दौरान शुरू हुई यौन उत्पीडऩ रोकने की पहल, ‘इंटीमेसी सुपरवाइजर’ की निगरानी में फिल्माए जाएंगे ऐसे दृश्य

अकाउस्टिक न्यूरोमा से पीडि़त हैं आनंद कुमार

डॉक्टरों ने आनंद कुमार से कहा कि वह अकाउस्टिक न्यूरोमा (ब्रेन ट्यूमर) से पीडि़त हैं। डॉक्टरों ने बताया कि अगर वह इसका ऑपरेशन करते हैं तो बहुत हद तक संभव है कि उन्हें कई परेशानियां हों। इससे उनकी आंखों पर प्रभाव पड़ सकता है। उस समय ऑपरेशन नहीं किया गया, लेकिन तब से आनंद डॉक्टरों की निगरानी में हैं। हर 6 महीने में उनकी जांच होती है। आनंद कुमार ने बताया कि सुपर 30 2014 बैच के उनके कुछ बच्चों को इसकी जानकारी है, लेकिन अन्य छात्रों पर इसका असर ना पड़े, इस वजह से उन्होंने यह बात किसी को नहीं बताई। आनंद कुमार ने बताया कि उनकी दिनचर्या सामान्य है, लेकिन उन्हें लगातार दर्द की समस्या रहती है।

# संजय लीला भंसाली की ‘मलाल’ से होगा करण जौहर की ‘ड्राइव’ का मुकाबला

# वर्ष 2020 जनवरी, दूसरे शुक्रवार को प्रदर्शित होगी इस 100 करोड़ी सितारे की फिल्म

Tags :

Advertisement