Advertisement

  • नानावती अस्पताल में भर्ती अमिताभ बच्चन, लिवर से जुड़ी है समस्‍या

नानावती अस्पताल में भर्ती अमिताभ बच्चन, लिवर से जुड़ी है समस्‍या

By: Pinki Fri, 18 Oct 2019 08:51 AM

नानावती अस्पताल में भर्ती अमिताभ बच्चन, लिवर से जुड़ी है समस्‍या

बॉलीवुड मेगास्टार अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) पिछले 3 दिनों से मुंबई के नानावती अस्पताल में एडमिट हैं। इसकी वजह उन्‍हें लीवर की प्रॉब्‍लम है। बता दे, अमिताभ सिर्फ 25 प्रतिशत लिवर के सहारे जिंदा हैं। हेपेटाइटिस इंफेक्शन के कारण उनका 75 प्रतिशत लिवर खराब हो चुका है। इसका कारण सिरोसिस है। अमिताभ बच्चन को मंगलवार दोपहर 2 बजे अस्पताल में भर्ती कराया गया था। माना जा रहा है कि उन्हें रविवार को डिस्चार्ज किया जा सकता है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, बच्‍चन परिवार के लोग लगातार अमिताभ से मिलने जाते हैं। उन्‍हें एक स्‍पेशल रूम में रखा गया है। हालांकि, अब तक कोई भी बॉलिवुड सिलेब्रिटी उनसे मिलने नहीं पहुंचा है क्‍योंकि ज्‍यादातर को इस बारे में जानकारी नहीं है।

amitabh bachchan liver problem,amitabh bachchan in hospital,amitabh bachchan,amitabh bachchan news in hindi,entertainment,bollywood news in hindi ,हॉस्‍पिटल में ऐडमिट अमिताभ बच्‍चन, अमिताभ बच्‍चन, अमिताभ को लिवर की समस्‍या

बता दें कि अमिताभ को लीवर से जुड़ी समस्याएं हैं। 1982 में फिल्म कुली की शूटिंग के दौरान अमिताभ को चोट लग गई थी। इसमें उनका काफी खून बह गया था। स्थिति ऐसी थी कि डॉक्टरों ने उन्हें क्लीनिकली डेड घोषित कर दिया गया था। काफी खून बह जाने के कारण एक्सीडेंट के बाद उन्हें 200 डोनर्स के जरिए 60 बोतल खून चढ़ाया गया था। इससे वह तब खतरे से बाहर आ गए, मगर उसी दौरान एक और बीमारी ने उन्हें घेर लिया था। एक इंटरव्यू के दौरान खुद बिग बी ने बताया था, 'एक्सीडेंट के दौरान मुझे जिन डोनर्स का खून चढ़ाया गया था, उनमें से एक को हेपेटाइटिस बी था। उसी के जरिए ये मेरे शरीर में प्रवेश कर गया था। 2000 तक मैं ठीक रहा, मगर उसके बाद एक सामान्य मेडिकल चेकअप में सामने आया कि कि मेरा लिवर इंफेक्टेड है।' अमिताभ सिर्फ 25 प्रतिशत लिवर के सहारे जिंदा हैं। हेपेटाइटिस इंफेक्शन के कारण उनका 75 प्रतिशत लिवर खराब हो चुका है।

बता दे, साल 2012 में भी सर्जरी की वजह से 12 दिन के लिए हॉस्पिटल में भर्ती हुए थे। अमिताभ को लीवर से जुड़ी समस्याएं हैं।

Tags :

Advertisement