'मी टू मुहिम' यौन उत्पीड़न के खिलाफ सकारात्मक बदलाव लेकर आया है : सोनी राजदान

By: Pinki Thu, 18 Oct 2018 10:29:18

'मी टू मुहिम' यौन उत्पीड़न के खिलाफ सकारात्मक बदलाव लेकर आया है : सोनी राजदान

देश में शुरू हुआ #MeToo अभियान बॉलीवुड के अलावा और दूसरे झेत्रों में भी अपना रंग दिखा रहा है। महिलाएं अब बिना डरे और खुलकर राजनेताओं, पत्रकारों और बॉलीवुड के कई सेलेब्स पर यौन शोषण का आरोप लगा चुकी है। वही इन सबके के बीच दिग्गज अभिनेत्री सोनी राजदान का कहना है कि 'मी टू मुहिम' यौन उत्पीड़न के खिलाफ सकारात्मक बदलाव लेकर आया है, लेकिन उन महिलाओं का आकलन नहीं किया जाना चाहिए, जिन्होंने इसे लेकर अपनी आवाज नहीं उठाई है। सोनी राजदान अभिनेत्री आलिया भट्ट की मां हैं।

सोनी ने कहा, "एक पुरुष प्रधान समाज में रहते हुए मैं जानती हूं कि ऐसी घटनाएं किसी भी लड़की के लिए डरावनी हो सकती है और इसलिए यह एक सकारात्मक संकेत है कि लोग अपनी कहानियों के साथ आगे आ रहे हैं।"

उन्होंने कहा, "यह कहना आसान है कि अगर आपका उत्पीड़न होता है तो अपनी नौकरी छोड़ दें, लेकिन लोग अपनी नौकरी पर निर्भर होते हैं, क्योंकि यह उनकी जीविका और जीवन का सवाल है। इसलिए हमें मी टू से जुड़ी कहानियों के साथ आगे आने वाली पीड़िताओं का समर्थन किया जाना चाहिए और जो महिलाएं इसे लेकर चुप हैं, उनका भी इस आधार पर आकलन नहीं करना चाहिए।"

यह पूछे जाने पर कि कार्यस्थलों पर यौन उत्पीड़न होता है? सोनी ने कहा, "जब कोई व्यक्ति महिला का उत्पीड़न करता है तो उसे पता होता है कि महिला के पास अपनी नौकरी बचाने के लिए ऐसे उत्पीड़न झेलने होंगे। यह उसकी जीविका का सवाल है।"

अपनी फिल्म 'योर्स ट्रली' के लिए बुसान अंतर्राष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल में भाग लेकर लौटी अभिनेत्री ने कहा, "हर कंपनी को यौन उत्पीड़न को लेकर सख्त होना चाहिए, ताकि पीड़ित अपना पक्ष रखते हुए सुरक्षित महसूस करे।"

bollywood,soni razdan,metoo campaign,metoo movement ,दिग्गज अभिनेत्री सोनी राजदान ,मी टू मुहिम,बॉलीवुड

एक्ट्रेस जैस्मीन भसीन ने सुनाई आपबीती, डायरेक्टर बोला- कपड़े उतारकर दिखाओ

#MeToo अभियान में रोजाना एक नया नाम जुड़ता जा रहा है। टीवी एक्ट्रेस जैस्मीन भसीन ने बॉलीवुड लाइफ के साथ बातचीत में बताया कि फिल्म मेकर ने उनसे ऑडिशन के दौरान कपड़े उतारने को कहा था क्योंकि वे देखना चाहते थे कि जैस्मीन का शरीर बिकनी पहनने के लिए फिट था या नहीं।

मामला 5 साल पुराना है जब जैस्मीन मॉडलिंग किया करती थीं। जैस्मीन ने बताया की, ‘मुझे कास्टिंग डायरेक्टर से मिलना था। मेरी एजेंसी ने मुझे बताया कि गुजराती और हिंदी फिल्में बनाने वाले एक प्रसिद्ध डायरेक्टर अपनी अगली फिल्म के लिए मेरा ऑडिशन लेने वाले हैं, लेकिन जब मैं उनसे मिलने गई तो उन्होंने मुझसे लगत लहजे में बात की। उनका पहला सवाल ही मुझे अजीब महसूस करवाने के लिए काफी था। उन्होनें मुझसे पूछा कि ‘तुम एक्ट्रेस बनने के लिए क्या कर सकती हो और किस हद तक जा सकती हो’? मैं भोली-भाली थी और डायरेक्टर की बात को समझ नहीं पाई, मैनें कहा – मैं इससे ज्यादा और क्या कर सकती हूं, मैंने अपना शहर छोड़ दिया, अपना घर छोड़ दिया, मैं संघर्ष कर रही हूं’। जैस्मीन ने कहा कि ‘मैं महसूस कर रही थी कि मैं उनकी बातों को समझ नहीं पा रही हूं’। उसके बाद डायरेक्टर ने मुझसे कपड़े उतारने को कहा। जैस्मीन ने बताया कि डायरेक्टर के अमुसार वह देखना चाहता था कि मैं बिकनी में कैसी दिखूंगी।

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन lifeberrys हिंदी की वेबसाइट पर। जानिए बॉलीवुड, टीवी और मनोरंजन से जुड़ी News in Hindi

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2023 lifeberrys.com