• होम
  • अजब गजब
  • अनोखा देश जहां मरने के बाद ही अलग होते हैं जोड़े, नहीं होता हैं तलाक

अनोखा देश जहां मरने के बाद ही अलग होते हैं जोड़े, नहीं होता हैं तलाक

By: Ankur Thu, 17 Sept 2020 7:43 PM

अनोखा देश जहां मरने के बाद ही अलग होते हैं जोड़े, नहीं होता हैं तलाक

आज के समय में तलाक समाज में बहुत आम बन चुका है। जब भी कभी रिश्तों में नहीं बन पाती हैं तो लोग तलाक के ऑप्शन का चुनाव करते हैं। हर देश में तलाक की एक कानूनी प्रक्रिया हैं। लेकिन आज इस कड़ी में हम आपको एक ऐसे देश के बारे में बताने जा रहे हैं जहां जोड़े मरने के बाद ही अलग होते हैं और तलाक नहीं होता हैं। इस देश में तलाक का कोई प्रावधान नहीं हैं। हम बात कर रहे हैं एशिया के फिलीपींस देश की।

फिलीपींस कैथोलिक देशों के एक समूह का हिस्सा है। कैथोलिक चर्च के प्रभाव के वजह से ही इस देश में तलाक का कोई प्रावधान नहीं है। साल 2015 में जब पोप फ्रांसिस फिलीपींस गए थे, तो वहां के धर्मगुरुओं से अपील की थी कि तलाक चाहने वाले कैथोलिक लोगों के प्रति सहानुभूति नजरिया रखना चाहिए। लेकिन फिलीपींस में 'तलाकशुदा कैथोलिक' होना अपमानजनक माना जाता है।

फिलीपींस के ईसाई धर्मगुरुओं ने पोप फ्रांसिस की बात को एकदम अनसुना कर दिया। दरअसल, उन्हें अब इस बात का गर्व है कि अब दुनिया में एकमात्र फिलीपींस ऐसा देश है, जहां पर तलाक नहीं लिया जा सकता है। फिलीपींस में तलाक को वैध बनाने वाला बिल विधायिका से पहले है। लेकिन राष्ट्रपति बेनिनो एक्विनो के समर्थन के बिना कानून बनाना मुश्किल है।

weird news,weird incident,weird rule,no provision for divorce,philippines ,अनोखी खबर, अनोखा मामला, अनोखा नियम, तलाक का प्रावधान नहीं, फिलीपींस

पहले था कानून, लेकिन बाद में खत्म हो गया

करीबन चार सदी तक फिलीपींस पर स्पेन का शासन रहा। इस दौरान वहां की अधिकांश जनता ने ईसाई धर्म स्वीकार कर लिया था। समाज में कैथोलिक रूढ़िवादी नियमों ने अपनी जड़ें जमा ली थीं। लेकिन साल 1898 में स्पेन-अमेरिका युद्ध हुआ और फिलीपींस पर अमेरिका का शासन हुआ, तो तलाक के लिए एक कानून बनाया गया। साल 1917 में कानून के मुताबिक लोगों को तलाक की अनुमति तो दी गई, लेकिन एक शर्त थी। ये शर्त थी कि अगर पति-पत्नी में से कोई एडल्टरी करते पाया जाएगा, तो तलाक लिया जा सकता है।

द्वितीय विश्वयुद्ध के समय जब फिलीपींस पर जापान ने कब्जा किया, तो उस समय भी तलाक के लिए एक नया कानून लाया गया। लेकिन ये नया कानून कुछ साल तक ही चला और साल 1944 में अमेरिका का जब दोबारा शासन हुआ, तो पुराना तलाक कानून ही लागू कर दिया गया। साल 1950 में जब फिलीपींस अमेरिका के कब्जे से आजाद हुआ, तो इसके बाद चर्च के प्रभाव में तलाक का कानून वापस ले लिया गया। उसी समय से तलाक पर जो प्रतिबंध लगा, वो आजतक जारी है।

मुस्लिम ले सकते हैं तलाक

बता दें कि फिलीपींस में तलाक नहीं लेने का प्रतिबंध सिर्फ ईसाइयों पर है। यहां की 6 से 7 फीसदी मुस्लिम आबादी अपने पर्सनल लॉ के मुताबिक तलाक ले सकती है। मुस्लिम समुदाय को अपने धार्मिक नियमों के अनुसार ऐसा करने की छूट दी गई है।

ये भी पढ़े :

# कोरोना काल में इस पानीपूरी वाले का यह जुगाड़ देख रह जाएंगे हैरान, देखें विडियो

# वैज्ञानिक सामने लेकर आए हवा में उड़ने वाले सांप की सच्चाई, आइये जानें

# वो महिला जासूस जो अपने प्यार के जाल में फंसा निकलवाती थी खुफिया जानकारी

# 3 हजार रुपये में शुरू किया था महिला ने सलाद बेचने का बिज़नेस, आज कमाती हैं लाखों

# अनोखी लैब जहां जिंदा इंसानों पर किए जाते थे प्रयोग, आवाज करते हुए फट जाते थे हाथ-पैर

Tags :

Advertisement

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2020 lifeberrys.com