Advertisement

  • होम
  • अजब गजब
  • 'घोस्ट टाउन' के नाम से मशहूर है यह शहर, रातोंरात कराया गया था खाली

'घोस्ट टाउन' के नाम से मशहूर है यह शहर, रातोंरात कराया गया था खाली

By: Ankur Tue, 26 May 2020 5:35 PM

'घोस्ट टाउन' के नाम से मशहूर है यह शहर, रातोंरात कराया गया था खाली

हर किसी को अपना घर और शहर बहुत प्यारा होता हैं और इसे अचानक छोड़कर जाने की बात कोई सोच भी नहीं सकता हैं। लेकिन जरा सोचिए कि कोई शहर रातोंरात खाली कराया जाए तो इसके पीछे वजह भी कुछ बड़ी होगी। ऐसा हुआ था 58 साल पहले अमेरिका में जहां के सेंट्रालिया टाउन जो कि पेन्सिलवेनिया में स्थित हैं को रातोंरात खाली कराया गया था। अब इस शहर के खाली होने के बाद इसे 'घोस्ट टाउन' के नाम से जाना जाता हैं। अगर इस शहर को खाली नहीं कराया जाता तो शायद यहां रहने वाले लोग मारे जाते। हालांकि यहां लोग घूमने के लिए अक्सर आते रहते हैं, लेकिन जगह-जगह बोर्ड लगाकर उन्हें इस शहर में होने वाले खतरों से आगाह किया गया है।

weird news,weird incident,ghost town,pennsylvania centralia,mine fire burning ,अनोखी खबर, अनोखी घटना, पेन्सिलवेनिया में स्थित सेंट्रालिया, घोस्ट टाउन, खदानों में आग

दरअसल, यहां जमीन के नीचे भयंकर आग लगी हुई है, जो 58 साल से लगातार जल रही है। सेंट्रालिया का यही रहस्य दुनियाभर के लोगों को आकर्षित करता है। कभी इस शहर में 1400 के करीब लोग रहते थे, लेकिन 2017 तक यहां सिर्फ पांच लोग ही बच गए थे।

'घोस्ट टाउन' के नाम से जाना जाने वाला सेंट्रालिया कभी कोयले की खदानों के लिए मशहूर था, लेकिन बताया जाता है कि साल 1962 में शहर के आसपास फैले कचरे में आग लग गई थी, जिसके बाद वो आग धीरे-धीरे जमीन के नीचे मौजूद कोयले की खदानों तक जा पहुंची। जमीन के नीचे लगातार बढ़ती आग की वजह से शहर में कार्बन-मोनोक्साइड जैसी कई जहरीली गैसें फैलने लगीं। इस वजह से शहर में रह रहे लोगों ने ये जगह छोड़ दी और दूसरी जगह चले गए।

weird news,weird incident,ghost town,pennsylvania centralia,mine fire burning ,अनोखी खबर, अनोखी घटना, पेन्सिलवेनिया में स्थित सेंट्रालिया, घोस्ट टाउन, खदानों में आग

विशेषज्ञों की मानें तो सेंट्रालिया में जमीन के नीचे अभी भी इतना कोयला मौजूद है कि ये जगह करीब 250 साल तक लगातार जलती रहेगी। इस आग की वजह से यहां की सड़कें गल गई हैं और जगह-जगह गड्ढे बन गए हैं, जिनसे धुआं निकलते रहता है।

ऐसा नहीं है कि अमेरिकी सरकार ने जमीन के नीचे लगी इस आग को बुझाने के बारे में नहीं सोचा। लेकिन इसमें अरबों रुपये खर्च हो जाते। इस वजह से सरकार ने सेंट्रालिया की आग बुझाने के बजाय यहां के लोगों को दूसरे शहरों में बसाना ही ठीक समझा।

Tags :

Advertisement