Advertisement

  • बिना मर्जी के भी इन वजहों से शादी के लिए तैयार हो जाते हैं लोग

बिना मर्जी के भी इन वजहों से शादी के लिए तैयार हो जाते हैं लोग

By: Ankur Thu, 19 Mar 2020 7:53 PM

बिना मर्जी के भी इन वजहों से शादी के लिए तैयार हो जाते हैं लोग

आज का जमाना जहां नई तकनिकी और सोच के साथ आगे बढ़ रहा हैं वहीँ कई बार लोग ऐसे फैसले लेते हैं जो नै सोच को मात देती हैं। ऐसा ही एक अहम फैसला होता हैं शादी से जुड़ा जिसमें कई लोग अपनी मर्जी के बिना भी शादी के लिए तैयार हो जाते हैं। वैसे तो शादी के लिए तभी तैयार होना चाहिए जब आप पूरी तरह संतुष्ट हो। लेकिन कई ऐसी वजहें है जिनके चलते आज भी लोग बिना मर्जी के शादी के लिए तैयार हो जाते हैं। तो आइये जानते हैं उन वजहों के बारे में।

आर्थिक मजबूती के लिए

आपको यकीन नहीं होगा लेकिन बड़े शहरों में रहने वाली लड़कियां केवल इसलिए शादी करती हैं क्योंकि उनको लगता है कि ऐसा इंसान जो आर्थिक रूप से मजबूत है उसके साथ शादी करने से उनका भविष्य सुरक्षित हो जाएगा। भले ही वो उस लड़के से प्यार करें या नहीं।

भाई-बहनों में सबसे बड़ें होने पर

भारतीय समाज में शादी को लेकर सबसे ज्यादा नुकसान बड़े बच्चे को उठाना पड़ता है। क्योंकि अधिकतर अभिभावकों को लगता है कि अगर बड़ी बेटी की शादी पहले नहीं की तो लोग क्या कहेंगे। इस चक्कर में वो बिना जाने कि बेटी का शादी का मन है भी या नहीं बस शादी कर देते हैं।

relationship tips,relationship tips in hindi,reasons to get married ,रिलेशनशिप टिप्स, रिलेशनशिप टिप्स हिंदी में, शादी करने के कारण

प्यार में धोखा खाने के बाद

अधिकतर लड़के-लड़कियां केवल इसलिए शादी कर लेते हैं क्योंकि वो एक बार प्यार में धोखा खा चुके होते हैं। दोबारा ऐसी परिस्थिति न आए इससे बचने के लिए वो किसी भी इंसान से चाहे वो उनके लिए सही हो या नहीं बस शादी कर लेतें हैं।

शादी एक परंपरा है

कुछ लोगों के लिए शादी का मतलब केवल एक परंपरा होता है। उनके लिए शादी करना एक जिम्मेदारी है जबकि बहुत से ऐसे लोग हैं जो बिना शादी के ही खुश हैं। तो अगली बार जब शादी का ख्याल मन में आए तो उसकी वजह केवल परंपरा न हो।

क्योंकि मेरे सारे दोस्त मैरिड हैं

बहुत से लोग तो केवल इसलिए शादी कर लेते हैं क्योंकि उनके सारे दोस्तों की शादी हो चुकी है और कुछ लोगों के तो बच्चे भी हो गए हैं। तो अगर आप केवल अपने दोस्तों की खातिर शादी कर रहें हैं तो एक बार फिर से सोच लीजिए।

Tags :

Advertisement