Advertisement

  • कुछ इस तरह सजाएं अपना घर, होगा पॉज़ीटिव एनर्जी का संचार

कुछ इस तरह सजाएं अपना घर, होगा पॉज़ीटिव एनर्जी का संचार

By: Priyanka Sat, 30 Nov 2019 1:03 PM

कुछ इस तरह सजाएं अपना घर, होगा पॉज़ीटिव एनर्जी का संचार

घर सुन्दर और साफ़ हो इसके साथ-साथ ये भी जरूरी है कि घर में सकारात्मक ऊर्जा हो, क्योकि घर की पॉज़ीटिव व निगेटिव एनर्जी का हमारे जीवन पर गहरा प्रभाव पड़ता है। पॉज़ीटिव एनर्जी जहां हमें ऊर्जावान बनाने के साथ-साथ चुस्त-दुरुस्त बनाए रखती है, वहीं निगेटिव एनर्जी से घर में तनाव का माहौल बना रहता है और वहां रहनेवालों की तबीयत भी ख़राब रहती है। पर कुछ छोटे-छोटे बदलावों से आप घर की निगेटिव एनर्जी को दूर कर पॉज़ीटिव एनर्जी ला सकते हैं।

decorating house for positive energy,positive energy in home,household tips,home decor ,पॉज़ीटिव एनर्जी, पॉज़ीटिव एनर्जी  के लिए घर को सजाये ऐसे, होम डेकोर, हाउसहोल्ड टिप्स

घर को साफ़-सुथरा व व्यवस्थित रखें

पॉज़ीटिव एनर्जी को आकर्षित करने के लिए सबसे ज़रूरी है, घर को साफ़-सुथरा व व्यवस्थित रखना, क्योंकि कबाड़,पुराना सामान और टूटी-फूटी चीज़ें निगेटिव एनर्जी पैदा करती हैं।हर हफ़्ते या 15 दिन में पूरे घर की सफ़ाई करें। घर में धूल-मिट्टी इकट्ठा न होने दें। ग़ैरज़रूरी पुरानी रद्दी और मैग्ज़ीन को समय-समय पर निकालते रहें।

पोधों से मिले पॉजिटिव एनर्जी

घर में इनडोर प्लांट्स और बालकनी में रंग-बिरंगे फूलोंवाले प्लांट्स लगाएं। प्लांट्स घर में कलर, ऑक्सीजन, ताज़ी हवा और पॉज़ीटिव एनर्जी बढ़ाते हैं।लिविंग रूम में रोज़ाना ताज़े फूल लगाएं। फूल रंग, ख़ुशबू और पॉज़ीटिव एनर्जी को अट्रैक्ट करते हैं।

decorating house for positive energy,positive energy in home,household tips,home decor ,पॉज़ीटिव एनर्जी, पॉज़ीटिव एनर्जी  के लिए घर को सजाये ऐसे, होम डेकोर, हाउसहोल्ड टिप्स

प्राकृतिक चीज़ों का इस्तेमाल करें

घर में टॉक्सिक और केमिकलयुक्त चीज़ों की बजाय इको-फ्रेंडली, नॉन-टॉक्सिक और होममेड सोल्यूशन्स का इस्तेमाल करें।ज़्यादा से ज़्यादा प्राकृतिक चीज़ों का इस्तेमाल करें। कोशिश करें कि ज़्यादातर चीज़ों को रिसाइकल कर इस्तेमाल करें। बैम्बू, कॉर्क, हार्डवुड जैसे प्राकृतिक संसाधनों का इस्तेमाल करें। फ्लोरिंग के लिए नेचुरल फाइबर कारपेट बेहतरीन माना जाता है।

लाइटिंग

लाइटिंग आपके घर की एनर्जी को काफ़ी हद तक प्रभावित करती है। जहां घर में मौजूद सही रोशनी से आप ऊर्जावान महसूस करते हैं, वहीं हल्की या डिम लाइट आपको डल व डिप्रेस्ड फील कराती है। घर में सही लाइटिंग अरेंजमेंट करें। सीएफएल की बजाय एलईडी लाइट्स इस्तेमाल करें। सीएफएल लाइट्स में मौजूद टॉक्सिक तत्व हमारे स्वास्थ्य और पर्यावरण दोनों के लिए ख़तरनाक साबित हो सकते हैं।

ख़ुशबू से मिले पॉजिटिविटी

ख़ुशबू घर में मौजूद निगेटिव एनर्जी को ख़त्म कर पॉज़ीटिव एनर्जी पैदा करती है। इसलिए लैवेंडर, मिंट और नीलगिरी युक्त ख़ुशबूदार कैंडल्स हर कमरे में जलाएं। धार्मिक कारणों के अलावा घरों में ख़ुशबूदार अगरबत्ती और धूप जलाने के पीछे पॉज़ीटिव एनर्जी बढ़ाने का ही उद्देश्य होता है।

Tags :

Advertisement