Advertisement

  • दुनिया के इन देशों में नहीं दिख पाती चाँद की चांदनी, चलती है सूरज की मनमर्जी

दुनिया के इन देशों में नहीं दिख पाती चाँद की चांदनी, चलती है सूरज की मनमर्जी

By: Ankur Mon, 19 Aug 2019 7:24 PM

दुनिया के इन देशों में नहीं दिख पाती चाँद की चांदनी, चलती है सूरज की मनमर्जी

यह दुनिया बहुत बड़ी हैं जहां हर जगह अपनी विशेषता लिए हुए हैं। कई जगह अपने अनोखेपन के लिए जानी जाती हैं। उसी तरह कुछ जगह ऐसी हैं जो केवल इसलिए जानी जाती हैं कि वहां रात नहीं होती हैं। जी हाँ, जिस तरह सामान्य जगहों पर एक समय के बाद सूरज ढल जाता हैं और चाँद की चांदनी अपना रूप बिखेरती हैं। वैसा इन जगहों पर देखने को नहीं मिलता हैं और यहां सूरज ही अस्त नहीं होता हैं। तो आइये जानते है इन जगहों के बारे में।

फिनलैंड
हजारों झीलों और टापुओं का यह देश बेहद सुंदर तथा आकर्षक है। गर्मी के मौसम में यहां करीब 73 दिनों तक सूरज अपनी रोशनी बिखरेता रहता है। घूमने के लिहाज से यह देश काफी अच्छा है।

# छुट्टियों में करें भारत के ऐतिहासिक किलों की सैर, महसूस करेंगे खुद को गौरवान्वित

# टीवी सीरियल्स की शूटिंग के लिए सबसे ज्यादा पसंद की जाती है ये 5 जगहें

foreign places,foreign countries,foreign countries there are no nights,tourist countries ,विदेशी जगह, विदेशी देश, देश जहां रात नहीं होती, पर्यटन के लिए देश

नॉर्वे
यह देश आर्क्टिक सर्कल के अंदर आता है। मई से लेकर जुलाई तक,पूरे 76 दिनों तक यहां सूरज अस्त नहीं होता।

स्‍वीडन
स्‍वीडन में मई से अगस्‍त तक सूरज नहीं डूबता। अगर ढलता भी है तो सुबह 4:30 बजे तक पूरा दिन निकल भी आता है इसलिए इसे मध्य रात्रि वाला देश भी कहा जाता है।

# सुरक्षा के लिहाज से देश की टॉप 3 जगहें, बनाए इन छुट्टियों में घूमने का प्लान

# लेना चाहते है बर्फबारी का मजा, घूमने के लिए जाए देश की इन 4 जगहों पर

foreign places,foreign countries,foreign countries there are no nights,tourist countries ,विदेशी जगह, विदेशी देश, देश जहां रात नहीं होती, पर्यटन के लिए देश

आइसलैंड
ग्रेट ब्रिटेन के बाद यह यूरोप को सबसे बड़ा आईलैंड है। यहां रात में भी सूरज की रोशनी का आप आनंद ले सकते हैं जब 10 मई से जुलाई के अंत तक सूरज नहीं डूबता है। यहां घूमना आपके लिए काफी यादगार साबित हो सकता है।

कनाडा
दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा देश जो अर्से तक बर्फ से ढंका रहता है। हालांकि, यहां के उत्तरी-पश्चिम हिस्से में गर्मी के दिनों में 50 दिनों तक सूरज लगातार चमकता रहता है।

अलास्का
यहां मई से जुलाई के बीच में सूरज नहीं डूबता है। अलास्का अपने खूबसूरत ग्लेशियर के लिए भी जाना जाता है। मई से जुलाई के महीने में यहां रात को भी बर्फ सूरज की रोशनी से चमकती नजर आती है।

# राधा-कृष्ण मंदिर के अलावा भी घूमा जा सकता है मथुरा, इन जगहों के लिए भी प्रसिद्द

Tags :

Advertisement