• होम
  • हेल्थ
  • बनाए रखना चाहते हैं अपनी आंखों की सेहत, ना होने दें इन 5 पोषक तत्वों की कमी

बनाए रखना चाहते हैं अपनी आंखों की सेहत, ना होने दें इन 5 पोषक तत्वों की कमी

By: Ankur Thu, 05 Nov 2020 3:56 PM

बनाए रखना चाहते हैं अपनी आंखों की सेहत, ना होने दें इन 5 पोषक तत्वों की कमी

शरीर के अभिन्न अंगों में से एक होती हैं आंखें जो इस खूबसूरत दुनिया के रंगों को देखने में मदद करती हैं। ऐसे में कोई भी नहीं चाहेगा कि उन्हें आंखों से जुड़ी किसी भी प्रकार की परेशानी हो या आंखों की रोशनी पर बुरा असर पड़े। इसके लिए आपको जरूरत होती हैं कुछ ऐसे पोषक तत्वों की जो आंखों को सेहतमंद बनाने का काम करें। आज इस कड़ी में हम आपको उन्हीं जरूरी पोषक तत्वों और आहार के बारे में बताने जा रहे हैं जो आंखों की सेहत के लिए बहुत जरूरी होते हैं।

विटामिन ई

विटामिन ई की कमी से आंखों में धुंधलापन, अंधापन या मोतियाबिंद जैसी समस्याएं हो सकती हैं। आंखों को नुकसान से बचाने के लिए विटामिन ई से भरपूर खाद्य पदार्थों को अपने आहार में शामिल करें। बादाम, अखरोट, मूंगफली, सूरजमुखी के बीज, अलसी के तेल, पालक, ब्रोकोली और जैतून का तेल विटामिन ई के कुछ शानदार स्रोत हैं।

Health tips,health tips in hindi,healthy eye,food foe eye,nutrients for eye health ,हेल्थ टिप्स, हेल्थ टिप्स हिंदी में, आंखों की सेहत, आंखों के लिए आहार, आंखों को पोषण

विटामिन सी

विटामिन सी एक एंटीऑक्सिडेंट है, जो आंखों के स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करता है। पर्याप्त मात्रा में विटामिन सी का सेवन करने से मोतियाबिंद के जोखिम को कम कर सकता है। विटामिन सी से भरपूर खाद्य पदार्थों में ब्रोकोली, स्प्राउट्स, काली मिर्च, पत्तेदार हरी सब्जियां, खट्टे फल और अमरूद शामिल हैं।

ओमेगा-3 फैटी एसिड

ओमेगा-3 फैटी एसिड की पर्याप्त मात्रा होने से वयस्कों को मैक्यूलर डीजनरेशन और ड्राई आई सिंड्रोम से बचाने में मदद मिल सकती है। मैक्यूलर डीजनरेशन आंखों की समस्याओं में से एक है जिसमें व्यक्ति को धुंधला या कम दिखाई देता है। वहीं, ड्राय आई सिंड्रोम यानी आंखों में सूखापन एक ऐसी स्थिती है, जिसमें किसी व्यक्ति की आंखों में पर्याप्त मात्रा में आंसू नहीं बन पाते हैं, जिस कारण आंखों की चिकनाहट या नमी चली जाती है। मछली, टूना, नट्स और बीज, पौधे के तेल जैसे अलसी के तेल, कैनोला तेल आदि में ओमेगा-3 फैटी एसिड होता है।

Health tips,health tips in hindi,healthy eye,food foe eye,nutrients for eye health ,हेल्थ टिप्स, हेल्थ टिप्स हिंदी में, आंखों की सेहत, आंखों के लिए आहार, आंखों को पोषण

विटामिन ए

विटामिन ए वसा में घुलनशील विटामिन है, जो कुछ खाद्य पदार्थों में प्राकृतिक रूप से पाया जाता है। ये प्रोविटामिन से मिलता है और आंखों की सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है। विटामिन ए को रेटिनोल भी कहते हैं क्योंकि ये आंखों में रेटिना बनाने वाले पिगमेंट के निर्माण में मदद करता है। अंधेपन का सबसे सामान्य और बड़ा कारण विटामिन ए की कमी है। यह गाजर, चुकंदर, शलजम, शकरकंद, मटर, टमाटर, हरी पत्तेदार सब्जियां, आम, तरबूज, पपीता, पनीर, राजमा, बींस, अंडा आदि में पाया जाता है।

जिंक

जिंक आंखों में मौजूद एक महत्वपूर्ण पोषक तत्व है। यह मेलानिन के उत्पादन में मदद करता है जो कि आंखों का एक पिगमेंट है। जिंक की कमी से रतौंधी हो सकती है। पोल्ट्री जिंक के कुछ बेहतरीन स्रोतों में रेड मीट शामिल है। जिंक के प्राकृतिक और अच्छे स्रोत मूंगफली, लहसुन, तिल, फलियां, राजमा, दालें, सोयाबीन, अलसी, बादाम, मदर, गेहूं, अंडे की जर्दी है।

ये भी पढ़े :

# हार्ट अटैक का संकेत हो सकते हैं महिलाओं में दिखने वाले ये लक्षण, रहें सतर्क

# डेंगू के दौरान दवाई के साथ ऐसा रखें अपना आहार, रिकवरी होगी जल्द

# सर्दियों में अच्छी सेहत पाने के लिए इन 7 फलों को करें आहार में शामिल

# क्या आपको भी दिखाई दे रहे हैं ये 5 लक्षण, नजरअंदाज करने से अच्छा डायबिटीज की कराएं जांच

# फटाफट पाना चाहते हैं फैट से आजादी, ये 5 क्रॉल एक्सरसाइज करेगी वजन को नियंत्रित

Tags :

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2020 lifeberrys.com