Advertisement

  • स्ट्रोक के बाद बदल जाती हैं सेक्स लाइफ, यौन इच्छा में आती हैं कमी

स्ट्रोक के बाद बदल जाती हैं सेक्स लाइफ, यौन इच्छा में आती हैं कमी

By: Ankur Mon, 17 Feb 2020 6:00 PM

स्ट्रोक के बाद बदल जाती हैं सेक्स लाइफ, यौन इच्छा में आती हैं कमी

आप सभी ने मस्तिष्क का दौरा अर्थात स्ट्रोक के बारे में तो सुना ही होगा जो कि बेहद घातक बीमारी हैं। इस बीमारी में मस्तिष्क के किसी हिस्से में अगर रक्त नहीं पहुंच पाता हैं या रक्त वाहिका फट जाती है तो स्ट्रोक का दौरा पड़ जाता है। सही समय पर इस बीमारी का उपचार होना जरूरी हैं अन्यथा जान भी जा सकती हैं। हाल ही में हुए एक रिसर्च में सामने आया हैं कि स्ट्रोक के बाद व्यक्ति की सेक्स लाइफ बदल जाती हैं और यौन इच्छा में कमी आने लगती हैं।

जाती हुई सर्दी में बढ़ते है हार्ट अटैक के मामले, इन तरीकों से रखें दिल का ख्याल

कैंसर के लक्षणों की पहचान कर समय रहते हो जाए सतर्क

स्ट्रोक असोसिएशन के मुताबिक, 57 फीसदी स्ट्रोक के मरीजों का कहना है कि मस्तिष्काघात के बाद उनका यौन जीवन बदल जाता है। यौन के प्रति उनकी इच्छा कम हो जाती है और वो लोग शारीरिक संबंध बनाने को लेकर डरने लगते हैं। यह डर फिर से स्ट्रोक का दौरा पड़ने को लेकर होता है। यह अध्ययन एक हजार से ज्यादा स्ट्रोक के मरीजों पर हुआ है। अध्ययन कहता है कि 1/5 स्ट्रोक के मरीजों को लगता है कि उनके पार्टनर की यौन इच्छा खत्म हो गई है, जबकि एक तिहाई मरीजों का मानना है कि स्ट्रोक के बाद उनके लिए यौन संबंध बनाना मुश्किल हो गया है।

Health tips,health tips in hindi,health research,stroke,physical relation ,हेल्थ टिप्स, हेल्थ टिप्स हिंदी में, हेल्थ रिसर्च, स्ट्रोक, सेक्स लाइफ

यह सर्वे ब्रिटेन में हुआ है। यहां हर साल एक लाख लोग स्ट्रोक की बीमारी के चपेट में आते हैं। इनमें से हर चौथे में से एक व्यक्ति की उम्र 64 साल के करीब होती है। यह अध्ययन कहता है कि स्ट्रोक के बाद व्यक्ति में मानसिक और शारीरिक बदलाव आने लगते हैं।

जब दिमाग की कोशिकाओं में अचानक ब्लड और ऑक्सीजन पहुंचना बंद हो जाता है तो स्ट्रोक पड़ने की संभावना बढ़ जाती है। दिल और शुगर के मरीजों को स्ट्रोक की संभावना ज्यादा रहती है। इसके अलावा अगर किसी का ब्लड प्रेशर बढ़ा हुआ है तो उसे भी मस्तिष्क का दौरा पड़ सकता है। स्ट्रोक के लक्षणों में बोलने में परेशान से लेकर मुंह से आवाज निकलने में दिक्कत होना तक शामिल है। इसके अलावा सांस लेने में दिक्कत हो रही है तो यह भी ब्रेन स्ट्रोक के लक्षणों में शामिल है।

Tags :
|

Advertisement