• होम
  • न्यूज़
  • कोरोना : राजस्थान में 21 नवंबर से सभी जिलों में फिर लागू होगी धारा 144

कोरोना : राजस्थान में 21 नवंबर से सभी जिलों में फिर लागू होगी धारा 144

By: Pinki Fri, 20 Nov 2020 10:50 PM

 कोरोना :  राजस्थान में 21 नवंबर से सभी जिलों में फिर लागू होगी धारा 144

सर्दियां बढ़ने के साथ ही राजस्थान में नवंबर महीने के दूसरे सप्ताह में कोरोना के मामले बढ़ने शुरू हो गए हैं। प्रदेश में पहली बार 19 नवंबर को एक ही दिन में ढाई हजार से ज्यादा कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए। पिछले 24 घंटे में कोरोना के 2762 नए कोरोना केस सामने आए। इससे पहले गुरुवार को 2549 केस आए थे। राजस्थान में दो दिनों में 29 लोगों की कोरोना संक्रमण से मौत हुई। वहीं, राजधानी जयपुर में भी 500 से ज्यादा केस आना शुरु हो गए है। आज जयपुर में 514 कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए। इससे पहले 16 नवंबर को सबसे ज्यादा 538 और 19 नवंबर को 519 केस मिले थे। जयपुर में पिछले 10 दिनों में 18 मौत हुई है।

21 नवंबर से धारा 144

राजस्थान में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों को लेकर राज्य सरकार ने सभी जिला कलेक्टरों को 21 नवंबर से धारा 144 लगाने का पॉवर दे दिया है। गृह विभाग ने सभी जिला कलेक्टरों को परामर्श जारी कर दिया है। धारा 144 लागू होने के बाद एक जगह पर चार लोगों से ज्यादा के एकत्र होने पर प्रतिबंध लग जाएगा।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोरोना के तेजी से फैल रहे संक्रमण के मद्देनजर लोगों से बड़ी संख्या में एक जगह एकत्र नहीं होने की अपील की है। राज्य सरकार ने यह फैसला जनहित में किया है। मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को संभागीय आयुक्तों, जिला कलेक्टरों व सरकारी व प्राइवेट अस्पताल के अधीक्षकों के साथ वीसी के माध्यम से संवाद किया।

उन्होंने अस्पातलों के आइसीयू वार्ड में बेड और ऑक्सीजन की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए। उन्होंने लोगों को कोविड की गाइडलाइन का पालन करने को लेकर जागरूक करने का अभियान जारी रखने का आह्वान करते हुए कहा कि ऑक्सीजन लेवल की जांच के लिए सरकार ने नर्सिंगकर्मियों को ऑक्सीमीटर पहले ही उपलब्ध कराए थे। अब ग्रामीण इलाकों में आशा सहयोगिनियों को भी ये उपलब्ध कराए जा रहे हैं, जिससे ग्रामीण इलाकों में लोगों को राहत मिल सके।

उन्होंने बताया कि पॉजिटिव से निगेटिव हुए लोगों की समस्याओं के निदान के लिए प्रत्येक जिले में पोस्ट कोविड क्लिनिक शुरू करने का प्रयास किया जा रहा है। इस दौरान चिकित्सा सचिव सिद्धार्थ महाजन ने बताया कि कोरोना रोगियों के उपचार के लिए 12 हजार से अधिक ऑक्सीजन बेड व 26 हजार ऑक्सीजन सिलेंडर प्रतिदिन आपूर्ति की क्षमता उपलब्ध है। जयपुर के सवाई मान सिंह अस्पताल में जांच की सुविधा 24 घंटे है।

- किसी भी सार्वजनिक स्थान पर पांच से अधिक व्यक्ति एकत्र नहीं होंगे। सार्वजनिक स्थान पर प्रत्येक व्यक्ति को मास्क पहनना होगा। साथ ही, सामाजिक दूरी भी बनाए रखनी होगी।
- वैवाहिक समारोह में 100 व अंतिम संस्कार में बीस व्यक्ति की कोविड-19 प्रोटोकाल की पालना करनी होगी।
- सामूहिक गतिविधि रैली, जुलूस, सभा व सार्वजनिक सामारोह पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। - निर्वाचन प्रक्रिया, रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड, चिकित्सा संस्थान, राजकीय व सार्वजनिक कार्यालय, स्कूल और कॉलेज में होने वाली परीक्षा के दौरान उन्हें मुक्त रखा जाएगा।

कोरोना मरीज बढ़ने पर उदयपुर में 19 जनवरी 2021 तक लगाई धारा 144

कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या और आशंकित गंभीर स्थिति को लेकर उदयपुर जिला कलेक्टर ने संपूर्ण जिले में 19 जनवरी, 2021 तक धारा 144 लगा दी है। इसी के साथ जिले में शुक्रवार शाम से निषेधाज्ञा लागू हो गई है। उदयपुर जिले में पिछले 24 घंटे में शु्क्रवार को पहली बार ढाई सौ से अधिक कोरोना संक्रमित मरीज सामने आए। शुक्रवार को मरीजों की जारी पहली सूची में 214 तथा दूसरी सूची में चालीस मरीज सामने आए। इस तरह एक ही दिन में 254 मरीज सामने आए, जो महामारी की शुरुआत से लेकर अब तक सबसे अधिक है। सोमवार को जिले में 1034 सैंपल लिए गए और पच्चीस फीसद संक्रमित मिलने से जिला प्रशासन व चिकित्सा महकमे में हड़कंप मचा हुआ है।

अतिरिक्त जिला कलेक्टर ओपी बुनकर ने बताया कि उदयपुर जिले में कोरोना संक्रमण की गंभीर स्थिति से मानव जीवन व स्वास्थ्य को खतरा बना हुआ है। इस खतरे से बचाव व निवारण आवश्यक है। इसीलिए संपूर्ण जिले में दंड प्रक्रिया संहिता 1973 में प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए धारा 144 लागू की जा रही है। यह 19 जनवरी, 2021 की रात 11 बजे तक लागू रहेगी।

2 लाख 37 हजार के पार हुआ आंकड़ा

शुक्रवार को राजस्थान में कोरोना संक्रमितों का कुल आंकड़ा बढ़कर 2 लाख 37 हजार 668 पहुंच गया। वहीं, प्रदेश में कोरोना की चपेट में आने से मृतकों की संख्या बढ़कर 2130 हो गई है। प्रदेश में करीब 41.19 लाख से ज्यादा सैंपल लिए जा चुके है। वहीं, राजधानी जयपुर में अब तक 41547 संक्रमित केस आ चुके है। जयपुर में मृतकों की संख्या 404 हो गई है। यहां 33902 केस रिकवर हो गए हैं। ऐसे में अब 7241 लोग संक्रमित हैं।

पिछले आठ महिनों में पहली बार जयपुर में 16 नवंबर को एक ही दिन में रिकॉर्ड 538 पॉजिटिव केस मिले थे। यहां 11 नवंबर को 450 केस, 12 नवंबर को 460 केस, 13 नवंबर को 475 केस, 14 नवंबर को 406 केस और 15 नवंबर को सबसे ज्यादा 498 केस, 16 नवंबर को 538 और 17 नवंबर को 484 केस, 18 नवंबर को 468 और 19 नवंबर को 519 और 20 नवंबर को 514 नए केस मिले।

प्रदेश में गुरुवार को जोधपुर में 419 केस सामने आए। यहां अब तक 35 हजार 159 पॉजिटिव केस आ चुके हैं। यहां अब 4909 एक्टिव केस हैं। करीब 35 हजार 159 लोग रिकवर हो गए हैं। जोधपुर में कोरोना की वजह से 211 लोगों की मौत हो चुकी है। इसके अलावा अजमेर में 211, अलवर में 199, बांसवाड़ा में 5, बारां में 43, बाड़मेर में 37 केस मिले। भरतपुर में 45, भीलवाड़ा में 110, बीकानेर में 109, बूंदी में 36 केस, चित्तौड़गढ़ में 25 केस, चूरू में 39 केस, धौलपुर में 1 केस मिले हैं।

इसके अलावा डूंगरपुर में 42 केस, गंगानगर में 37 केस, हनुमानगढ़ में शून्य, जैसलमेर में 38 केस, जालौर में 28 केस, झालावाड़ में 23 केस, झुंझुनूं में 49 केस, करौली में 33, कोटा में 175, नागौर में 48, पाली में 92 केस, प्रतापगढ़ में 4 केस, राजसमंद में 24, सवाईमाधोपुर में 25, सीकर में 85, सिरोही में 35, टोंक में 45 और उदयपुर में 145 नए केस सामने आए।

ये भी पढ़े :

# राजस्थान : टूटा पिछले आठ महिनों का रिकॉर्ड, आज मिले 2762 कोरोना मरीज, जयपुर में 514 पॉजिटिव

# उदयपुर : पुलिस ने किया जिस्मफरोशी के गोरखधंधे का पर्दाफाश, स्पा सेंटर की आड़ में गैरकानूनी काम

# झुंझुनू : महिला के साथ यौन शोषण का मामला, शादी का झांसा देकर फंसाया

# अलवर : बेरोजगारी ने ली युवक की जान, नहीं करा पा रहा था मां के कैंसर का इलाज

# राजस्थान : गहलोत सरकार का बड़ा फैसला, बिना परीक्षा प्रमोट नहीं होंगे छात्र

# जोधपुर : नशीला पदार्थ पिला किशोरी से किया दुष्कर्म, बदनाम करने की धमकी पर 10 माह तक देह शोषण

# जोधपुर : जीप व ट्रैक्टर में हुई भिड़ंत, दोनों में सवार थे मजदूर, दस लोग घायल

Tags :
|
|

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2020 lifeberrys.com