Advertisement

  • कोरोना वायरस: जनता के गुस्से से बचने के लिए चीनी सरकार ने अब उठाया ये कदम

कोरोना वायरस: जनता के गुस्से से बचने के लिए चीनी सरकार ने अब उठाया ये कदम

By: Pinki Fri, 14 Feb 2020 2:07 PM

कोरोना वायरस: जनता के गुस्से से बचने के लिए चीनी सरकार ने अब उठाया ये कदम

चीन में कोरोना वायरस की वजह से मरने वालों की संख्या 1500 के पार पहुंच गई है. नॉवल कोरोना की शुरुआत वुहान से हुई थी और अभी तक दुनियाभर में 65,210 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 64,627 लोग तो सिर्फ चीन में ही बीमार हैं। चीन में अब इस वायरस के चलते राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने जनता के गुस्से से बचने के लिए शीर्ष अधिकारियों का तबादला कर दिया है। गुरुवार को चीन के हुबेई प्रांत और इसकी राजधानी वुहान में टॉप अधिकारियों को बदल दिया।

चीन की न्यूज एजेंसी शिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, शंघाई के पूर्व मेयर यिंग यॉन्ग की जगह अब जियांग चाउलिंग वुहान में सत्ताधारी कम्युनिस्ट पार्टी के मुखिया के तौर पर काम करेंगे। वुहान में वांग झॉन्गलिन अब मा गुओक्यांग की जगह पार्टी सचिव का पद संभालेंगे। स्थानीय मीडिया ने यह भी बताया कि वायरस से जुड़े दूसरी कई बातों के लिए पार्टी के कई और नेताओं को भी निकाला गया है।

xi xinping,corona virus death toll,corona virus,corona,china,coronavirus,coronavirus news ,शी चिनफिंग, कोरोना वायरस चीन, कोरोना वायरस इंडिया

हुबेई प्रांत और उसकी राजधानी वुहान कोरोना वायरस का केंद्र है। सबसे बड़ी कम्युनिस्ट पार्टी के प्रमुखों को इसलिए भी निकाला गया क्योंकि अधिकारियों ने इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या की जब दोबारा गिनती की तो यह आंकड़ा बहुत तेजी से बढ़ा और 14,840 से करीब 65,000 पहुंच गया।

अभी तक हुबेई में इस वायरस के इन्फेक्शन का पता लगाने के लिए सिर्फ RNA टेस्ट किया जा रहा था, जिसमें कई दिन लगते हैं। RNA यानी रिबॉन्यूसेलिक एसिड में जेनेटिक इन्फर्मेशन मिलती है जिससे वायरस की पहचान होती है। अब कंप्यूटराइज्ड टोमोग्राफी (CT) स्कैन भी शुरू कर दिया है जिससे फेफड़ों को देखा जा सकता है। हुबेई स्वास्थ्य आयोग का कहना है कि इस टेस्ट से कोरोना संक्रमण का पता जल्दी चलता है।

xi xinping,corona virus death toll,corona virus,corona,china,coronavirus,coronavirus news ,शी चिनफिंग, कोरोना वायरस चीन, कोरोना वायरस इंडिया

बता दे, चीन के बाद जापान में भी इस वायरस की वजह से एक मौत हुई है। जापान के स्वास्थ्य मंत्री ने पुष्टि की है कि तोक्यो के पास कानागावा में एक 80 साल की महिला की मौत कोरोना वायरस की वजह से हुई है। बता दें कि इससे पहले हॉन्ग कॉन्ग और फिलीपींस में एक-एक मौत हो चुकी है। चीन के बाद कोरोना से संक्रमित सबसे ज्यादा जापान है। वहीं करीब दो दर्जन से ज्यादा दूसरे देशों में भी करॉना के रोगी मिल चुके हैं। आपको बता दे, जापान के योकोहामा तट पर खड़े डायमंड प्रिंसेस क्रूज पर कोरोना के 28 नए मामलों की पुष्टि हुई है। इस तरह क्रूज पर कोरोना के कुल 218 मामले सामने आ चुके हैं। साथ ही क्रूज पर तैनात कुछ अधिकारी भी इससे संक्रमित हो गए हैं।

बता दें कि इस क्रूज पर कुल 3711 लोग एक सप्ताह से फंसे हुए हैं। इस क्रूज पर हांगकांग से सवार हुए एक शख्स में सबसे पहले कोरोना वायरस के लक्षण सामने आए थे। क्रूज में कुल 138 भारतीय नागरिक भी मौजूद हैं। दो भारतीयों में कोरोना की जांच पॉजिटिव आई है। भारतीय एंबेसी जापान प्रशासन के साथ संपर्क में है।

Tags :
|
|

Advertisement