Advertisement

  • Children's Day : घर के इन नियमों का पालन करना बच्चों के लिए बेहद जरूरी, ताकि संवरें उनका जीवन

Children's Day : घर के इन नियमों का पालन करना बच्चों के लिए बेहद जरूरी, ताकि संवरें उनका जीवन

By: Priyanka Wed, 13 Nov 2019 3:02 PM

Children's Day : घर के इन नियमों का पालन करना बच्चों के लिए बेहद जरूरी, ताकि संवरें उनका जीवन

बच्चों की पहली पाठशाला उनका परिवार होता है। परिवार में कुछ नियमों का होना जरूरी है और इन नियमों की नींव अगर बचपन से ही डाली जाए तो बच्चों को भविष्य में अच्छे इंसान बनाने की कोशिश कामयाब हो जाती है साथ ही घर में अनुशासन भी बना रहता है। बच्चे इन नियमों का पालन करें उसके लिए जरूरी है कि घर के बड़े भी उन नियमों के अनुसार ही चलें। आइए जानते है कुछ महत्वपूर्ण नियम, जो हर घर में बच्चों के लिए पालन करना जरूरी समझा जाना चाहिए...

childrens day special,tips to improve lives of children,children needs to follow certain rules,rules for children,relationship,parenting,mates and me ,पेरेंटिंग टिप्स , रिलेशनशिप  टिप्स, बच्चों को पालन करने चाहिए ये नियम

गुस्से पर काबू

घर में अगर बराबर की उम्र के बच्चे हैं तो उनमें आपस में झगड़ा होना स्वाभाविक है। बच्चे गुस्से में अक्सर एक-दूसरे पर हाथ भी उठा सकते हैं। घर में ये नियम बना दें कि अगर घर में किसी को किसी बात पर गुस्सा आए तो शांति से काम लिया जाएगा। किसी भी प्रकार की उद्दंडता नहीं की जाएगी।

अपशब्द नहीं बोलें

बच्चे अक्सर टीवी में देखकर या अपने दोस्तों के बीच रहकर अपशब्द बोलना सीख जाते हैं। जब भी बच्चों के मुंह से गलत शब्द निकले उन्हें टोेके और समझाए कि ऐसे शब्द बोलने से सब लोग उन्हें गंदा बच्चा समझेंगें

childrens day special,tips to improve lives of children,children needs to follow certain rules,rules for children,relationship,parenting,mates and me ,पेरेंटिंग टिप्स , रिलेशनशिप  टिप्स, बच्चों को पालन करने चाहिए ये नियम

चोरी ना करें

बच्चों को जिन चीजों के लिए रोका जाता है, बच्चे उन्हीं चीजों को पाने की चाह रखते हैं और आपके पीठ पीछे चोरी छिपकर उन्हें लेने की कोशिश करते हैं, जैसे फ्रीज में से आईसक्रीम लेना, चोरी छिपे चाॅकलेट खाना। बच्चों को ऐस करने से रोकें।

दूसरों की मदद करना सिखाएं


अपने व्यवहार के द्वारा बच्चों को दूसरों की मदद करना सिखाएं। इसकी शुरूआत वे अपने छोटे भाई-बहिनों का ध्यान रखकर, उन्हें होमवर्क करवाने में मदद करके कर सकते हैं।

समय का पाबंद बनना सिखाएं


सुबह समय पर उठने और रात को समय पर सोने की आदत बच्चों में बचपन से ही डालें। घर में सोने, उठने, खाने, खेलने और टीवी देखने का एक समय निश्चित कर लें और खुद भी समय का पालन करें।

Tags :

Advertisement