Advertisement

  • एक मां ही सिखा सकती है अपनी बेटियों को ये जरूरी बातें, उनके जीवन के लिए बहुत अहम

एक मां ही सिखा सकती है अपनी बेटियों को ये जरूरी बातें, उनके जीवन के लिए बहुत अहम

By: Ankur Sat, 27 Apr 2019 07:12 AM

एक मां ही सिखा सकती है अपनी बेटियों को ये जरूरी बातें, उनके जीवन के लिए बहुत अहम

हर माता-पिता की ख्वाहिश होती है कि वे अपने बच्चों की परवरिश कुछ इस तरह करें कि उनके बच्चे जीवन में खुद की पहचान बना सकें और खुद को सफल स्थापित कर सकें। खासतौर से एक माँ की अपने बेटी के लिए यह अहम चाहत होती हैं। इसके जरूरी है कि बेटियों को कुछ जरूरी बातें बताई जाए जो सिर्फ एक माँ ही कर सकती हैं। इसलिए आज हम आपको उन बातों के बारे में बताने जा रहें है जो हर माँ को अपनी बेटियों को सिखानी चाहिए जो कि उनके जीवन के लिए बहुत अहम हैं। तो आइये जानते हैं उन बातों के बारे में।

- बेटी को सिखाएं कि वह सबसे बेहतर है और उसके लिए कुछ भी नामुमकिन नहीं है। उसे खुद में विश्वास रखने की सीख दें ताकि किसी भी मुसीबत में वह घबराए नहीं और डटकर सामना करे। जिंदगी में अकसर ऐसे मोड़ आ जाते हैं जहां एक लड़की का आत्मविश्वास डगमगाने लगता है। यह मोड़ एक रिलेशनशिप में भी हो सकता है या फिर प्रफेशनल लाइफ में भी हो सकता है। लेकिन अगर आत्मविश्वास रहेगा तो वह हर मुसीबत से लड़कर निकल आएगी।

- आपके लिए वही व्यक्ति सही है जो आपकी इज्जत करता है, सम्मान देता है। यह बात बेटी को जरूर बताएं। ऐसे किसी इंसान के लिए अपनी जिंदगी बर्बाद करने का कोई औचित्य नहीं जो न तो आपसे प्यार करता है और न ही आपको सम्मान देता है। बेटी को सिखाएं कि उस इंसान की खुशी से ज्यादा जरूरी उसकी खुद की खुशी और जिंदगी है, जो अनमोल है।

# बेटी की शादी से पहले हर पिता को बतानी चाहिए ये बातें, जीवन में आएगी खुशहाली

# हर बेटी चाहती है अपने पिता से ये 4 बातें सुनना, जानकर आप भी रह जाएँगे हैरान

relationship tips,mother daughter relationship,parenting tips,teach to daughter ,रिलेशनशिप टिप्स, माँ बेटी का रिश्ता, बेटी की परवरिश, बेटी को जीवन की सीख

- एक महिला को प्यार और समर्पण की मूरत माना जाता है, लेकिन यह समझना और समझाना भी बेहद जरूरी है कि दूसरों के प्रति समर्पण के चक्कर में खुद को न खो दें। किसी भी रिश्ते को लेकर हो रही असुरक्षा की भावना को खुद पर हावी न होने दें।

- बेटी को पूरी छूट दें कि वह अपने फैसले खुद ले सकें। लेकिन वह फैसला सही है या गलत, इसे लेकर उसे जागरुक करना और समझाना आपकी जिम्मेदारी है। अगर लिया गया फैसला बेटी की नजर में सही है और आपकी नजर में गलत, तो उसे समझाएं और बताएं कि उससे क्या नुकसान हो सकता है। हालांकि बेटी को बोलने का पूरा मौका दें।

- एक बेटी के लिए उसकी सबसे अच्छी दोस्त मां ही हो सकती है। इसलिए अपनी बेटी की बेस्ट फ्रेंड बनने की कोशिश करें, ताकि वह आपसे कुछ न छिपाए और किसी भी परेशानी में होने पर आपसे शेयर कर सके।

- घर-परिवार में अन्य लोगों की देखभाल और उनकी लाइफ के अलावा खुद की केयर भी बेहद जरूरी है। बेटी को यह बात समझाएं और बताएं कि बाकी लोगों की देखभाल के साथ-साथ खुद की देखभाल रखना भी कितना जरूरी है।

# पढ़ाई के लिए बेटी को भेज रहे है दूर, जरूर रखें इन बातों का ध्यान

# लडकियां लेती है इन झूठ का सहारा, देती है प्यार में धोखा

Tags :

Advertisement