Advertisement

  • होम
  • हेल्थ
  • ज्यादा सेक्शुअल पार्टनर होना दोगुना करता हैं कैंसर का जोखिम

ज्यादा सेक्शुअल पार्टनर होना दोगुना करता हैं कैंसर का जोखिम

By: Ankur Fri, 14 Feb 2020 4:55 PM

ज्यादा सेक्शुअल पार्टनर होना दोगुना करता हैं कैंसर का जोखिम

कैंसर का जोखिम आज के समय में बढ़ता ही जा रहा है और शोधकर्ताओं द्वारा इस पर कई रिसर्च की जा रही है ताकि इसके सभी कारणों का पता कर बचाव किया जा सकें। हाल ही में सामने आई एक रिपोर्ट के मुताबिक़ महिलाओं में कैंसर और सेक्शुअल पार्टनर का संबंध सामने आया हैं जिसके अनुसार अगर किसी महिला के दस और उससे ज्यादा सेक्शुअल पार्टनर रहते हैं तो कैंसर का जोखिम दोगुना बढ़ जाता है जबकि पुरुषों में इसका जोखिम दो तिहाई बढ़ जाता है। हालांकि, इस अध्ययन का यह कतई मतलब नहीं है कि शारीरिक संबंध बनाने से कैंसर जैसी घातक बीमारी होती है।

यह पहली बार है जब शोधकर्ताओं ने यौन संबंधों और कैंसर जैसी घातक बीमारी के बीच संबंध खोजा है। शोधकर्ताओं का कहना है कि ज्यादा पार्टनर के संपर्क में आने से कैंसर जैसी घातक बीमारी हो सकती है। वैज्ञानिकों का कहना है कि ज्यादा लोगों के साथ यौन संबंध बनाने, ज्यादा शराब और धूम्रपान का सेवन करने से कैंसर हो सकता है।

Health tips,health tips in hindi,health research,cancer,cancer and sexual partners ,हेल्थ टिप्स, हेल्थ टिप्स हिंदी में, हेल्थ रिसर्च, कैंसर, कैंसर और सेक्शुअल पार्टनर

अध्ययन साफ कहता है कि शारीरिक संबंध मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य के लिए कई तरह से लाभकारी है। लेकिन इसमें इतना जरूर कहा गया है कि जिन महिलाओं व पुरुषों के दस या इससे ज्यादा लोगों से संबंध होते हैं उनमें कैंसर का जोखिम बढ़ जाता है।

यह अध्ययन कैम्ब्रिज के एंग्लिया रस्किन विश्वविद्यालय ने किया है। इस अध्ययन के लिए छह हजार पुरुषों और महिलाओं का डाटा एकत्रित किया गया। इन सभी लोगों की उम्र पचास साल के आसपास थी। शोध में देखा गया कि जिन पुरुषों के दस प्रेमिका रही उनको एक प्रेमिका वालों के मुकाबले कैंसर का जोखिम 69 फीसदी ज्यादा था। इसी तरह जिन महिलाओं के दस लोगों से संबंध रहने उनको कैंसर की बीमारी का जोखिम 91 फीसदी ज्यादा था।

Tags :
|

Advertisement

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2020 lifeberrys.com