• होम
  • न्यूज़
  • देश में कोरोना के बढ़ते आंकड़े एक बार फिर डराने लगे, क्या फिर से लगेगा लॉकडाउन या कर्फ्यू!

देश में कोरोना के बढ़ते आंकड़े एक बार फिर डराने लगे, क्या फिर से लगेगा लॉकडाउन या कर्फ्यू!

By: Pinki Sat, 21 Nov 2020 10:02 AM

देश में कोरोना के बढ़ते आंकड़े एक बार फिर डराने लगे, क्या फिर से लगेगा लॉकडाउन या कर्फ्यू!

देश में कोरोना के बढ़ते आंकड़े एक बार फिर डराने लग रहे है। कुछ दिन तक इसके नए मामलों में कमी आने के बाद अब फिर से नए मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। कई राज्यों में संक्रमण की रफ्तार थम गई है, लेकिन दिल्ली, मध्यप्रदेश और गुजरात के कुछ शहरों ने सरकार की टेंशन बढ़ा दी है। यहां तेजी से कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। खास बात ये है कि कुछ महीने पहले इन राज्यों में कोरोना की रफ्तार लगभग थम सी गई थी, लेकिन यहां अब एक बार फिर से संक्रमण तेजी फैल रहा है। लिहाजा इन राज्यों में नए सीरे से कई पाबंदियां लगाई जा रही है। देश में कोविड-19 के एक दिन के भीतर 45,882 नए मामले सामने आने के साथ शुक्रवार को संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 90 लाख से अधिक हो गई। अब तक 90.50 लाख केस आ चुके हैं। 84.75 लाख मरीज ठीक हो गए और 1.32 लाख मरीजों की मौत हो चुकी है।

दिल्ली में 118 लोगों की हुई मौत

दिल्ली में कोरोना संक्रमण (Coronavirus) पर काबू पाने की हर कोशिश नाकाम साबित हो रही है। देश की राजधानी में हर दिन कोरोना के नए आंकड़े बढ़ रहे हैं। दिल्ली में हर दिन कोरोना के नए आंकड़े दहशत की दस्तक दे रहे हैं। दिल्ली में अब कोरोना से मरने वालों की तादाद 8 हजार 159 तक पहुंच गई है। शुक्रवार देर रात तक के आंकड़ों के मुताबिक दिल्ली में 24 घंटे में कोरोना से 118 लोगों की मौत हुई जबकि 6608 कोरोना के नए मरीज सामने आए हैं। जिसके साथ ही संक्रमितों का आंकड़ा 5।17 लाख से अधिक पहुंच गया है। दिल्ली में कोरोना के बढ़ते आंकड़ों से एनसीआर में भी महामारी के फिर से पांव पसारने की आशंका है। शुक्रवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक नोएडा में इस वक्त कोरोना के 1400 से अधिक एक्टिव केस हैं। नोएडा में अभी तक कोरोना के 21,000 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं, जबकि 74 लोगों की मौत हुई है। कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए नोएडा और गुरुग्राम बॉर्डर पर रैंडम टेस्टिंग की जा रही है।

गुजरात में भी बढ़ रहे हैं केस

हालात गुजरात के भी ठीक नहीं है। अहमदाबाद में शुक्रवार रात से ही 57 घंटे का कर्फ्यू लागू होने के साथ ही प्रदेश के तीन और शहरों सूरत सहित राजकोट और वडोदरा में भी शनिवार से रात का कर्फ्यू लगाने का फैसला ले लिया गया है। इस कर्फ्यू के दौरान रात 9 बजे से लेकर सुबह 6 तक पाबंदियां जारी रहेंगी। राज्य सरकार ने यह फैसला कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए उठाया है। गुजरात के डिप्टी सीएम नितिन पटेल के मुताबिक, यह कर्फ्यू शनिवार से लागू होने जा रहा है। उधर, मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा कि अभी लॉकडाउन लगाने का इरादा नहीं है। राज्य सरकार ने 23 नवंबर से स्कूल-कॉलेज खोलने के अपने पुराने आदेश को भी रद्द कर दिया है। राज्य में दीवाली के बाद कोरोना के मामलों में इजाफा देखा जा रहा है। दीपावली के बाद से गुजरात में कोरोना के मामले एकदम से बढ़ते ही जा रहे हैं। एक दिन में 1,420 नए संक्रमित मिले। इससे पहले आखिरी बार 28 सितंबर को 1400 से ज्यादा यानी 1404 नए मरीज मिले थे। सबसे पहले 18 सितंबर को आंकड़ा इसके करीब पहुंचा था तब 1410 नए संक्रमित मिले थे। अब प्रदेश में कुल संक्रमित एक लाख 94 हजार 402 हो गए हैं।

लगातार दूसरे दिन भी 7 मौतें हुईं। इनमें सूरत में लगातार दूसरे दिन भी दो और मौतें हुईं। नए संक्रमितों के मुकाबले डिस्चार्ज होने वालों का फासला भी बढ़ता जा रहा है। शुक्रवार को 1,040 मरीज डिस्चार्ज हुए। प्रदेश और सूरत की रिकवरी दर घटकर क्रमश: 91.31% और 94.13% हो गई है।

मध्य प्रदेश में नाइट कर्फ्यू लागू

राज्य में गुरुवार को 1363 नए केस मिले। 887 लोग रिकवर हुए और 14 की मौत हो गई। इसी के साथ संक्रमितों का आंकड़ा अब 1 लाख 88 हजार 18 हो गया है। इनमें 1 लाख 75 हजार 89 लोग ठीक हो चुके हैं। 9800 मरीजों का इलाज चल रहा है। संक्रमण से जान गंवाने वालों की संख्या अब 3129 हो गई है। मध्यप्रदेश में लॉकडाउन नहीं लगेगा, लेकिन कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते सरकार ने 5 शहरों में नाइट कर्फ्यू और पाबंदियां लागू करने का फैसला किया है। इंदौर, भोपाल, ग्वालियर, रतलाम और विदिशा में शनिवार यानी 21 नवंबर से हर दिन रात 10 से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू रहेगा। राज्य में 8वीं तक के स्कूल 31 दिसंबर तक बंद रखने का फैसला लिया गया है। जिन शहरों में कोरोना का 5% से ज्यादा पॉजिटिविटी रेट है, वहां रात 10 से सुबह 6 बजे तक का कर्फ्यू रहेगा। 5% पॉजिटिविटी रेट यानी कोरोना के हर 100 टेस्ट में 5 टेस्ट पॉजिटिव पाए जाएं। ऐसे जिलों में क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक के बाद वहां के कलेक्टर नाइट कर्फ्यू लगाने के बारे में आखिरी फैसला लेंगे।

राजस्थान में 21 नवंबर से धारा 144

सर्दियां बढ़ने के साथ ही राजस्थान में नवंबर महीने के दूसरे सप्ताह में कोरोना के मामले बढ़ने शुरू हो गए हैं। प्रदेश में पहली बार 19 नवंबर को एक ही दिन में ढाई हजार से ज्यादा कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए। पिछले 24 घंटे में कोरोना के 2762 नए कोरोना केस सामने आए। इससे पहले गुरुवार को 2549 केस आए थे। राजस्थान में दो दिनों में 29 लोगों की कोरोना संक्रमण से मौत हुई। वहीं, राजधानी जयपुर में भी 500 से ज्यादा केस आना शुरु हो गए है। आज जयपुर में 514 कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए। इससे पहले 16 नवंबर को सबसे ज्यादा 538 और 19 नवंबर को 519 केस मिले थे। जयपुर में पिछले 10 दिनों में 18 मौत हुई है। राजस्थान में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों को लेकर राज्य सरकार ने सभी जिला कलेक्टरों को 21 नवंबर से धारा 144 लगाने का पॉवर दे दिया है। गृह विभाग ने सभी जिला कलेक्टरों को परामर्श जारी कर दिया है। धारा 144 लागू होने के बाद एक जगह पर चार लोगों से ज्यादा के एकत्र होने पर प्रतिबंध लग जाएगा।

मुंबई में 31 दिसंबर तक स्कूल बंद रहेंगे

राज्य में शुक्रवार को 5640 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए। 6945 लोग रिकवर हुए और 155 की मौत हो गई। अब तक 17,68,695 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 78,272 मरीजों का इलाज चल रहा है, जबकि 16,42,916 लोग ठीक हो चुके हैं। संक्रमण से जान गंवाने वालों की संख्या अब 46,511 हो गई है।

महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने शुक्रवार को कहा कि यदि महाराष्ट्र में कोरोना वायरस की दूसरी लहर आई तो यह सभी को बहुत महंगा पड़ेगा। हालांकि लोगों के मन में है कि राज्य में कोरोना की दूसरी लहर नहीं आएगी, फिर भी भय बना हुआ है।

कोरोना संक्रमण के चलते महाराष्ट्र के पंढरपुर में 25 से 26 नवंबर की आधी रात तक कर्फ्यू रहेगा। इस दौरान लोगों की आवाजाही पूरी तरह प्रतिबंधित रहेगी। अपर पुलिस अधीक्षक अतुल झेंडे ने शुक्रवार को कहा कि 25 से 26 के बीच कार्तिक एकादशी के चलते पंढरपुर के भगवान विठ्ठल के मंदिर में लाखों की संख्या में वारकरियों की भीड़ उमड़ती है। श्रद्धा पर कोरोना भारी न पड़ जाए इसलिए इस दौरान कर्फ्यू लागू करने का फैसला किया गया है। बृहन्मुंबई नगर पालिका (बीएमसी) ने शुक्रवार को बताया कि मुंबई में 31 दिसंबर तक स्कूल बंद रहेंगे। इससे पहले बीएमसी ने कहा था कि मुंबई में 23 नवंबर से स्कूल खुलेंगे। शहर में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए बीएमसी को अपने पिछले आदेश में बदलाव करना पड़ा।

उत्तरप्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 2840 नए मामले सामने आए और 20 लोगों की मौत भी हुई है। मौजूदा समय 23,357 मरीज ऐसे हैं जिनका इलाज चल रहा है। 4,91,131 लोग ठीक हो चुके हैं। प्रदेश के अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में रिकवरी रेट 94.18% है। संक्रमित लोगों में से कुल 7,500 लोगों की मौत हुई है।

हरियाणा में टीचर्स और विद्यार्थी कोरोना संक्रमित

हरियाणा में स्कूल खुलने के बाद कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ गए हैं। टीचर्स और विद्यार्थी लगातार कोरोना पॉजिटिव पाए जा रहे हैं। इसलिए प्रदेश सरकार ने एक बार फिर स्कूलों को बंद रखने के आदेश जारी कर दिए हैं। अब सभी प्राइवेट और सरकारी स्कूल 30 नवंबर तक बंद रहेंगे। इस दौरान सभी स्कूलों को सैनिटाइज किया जाएगा। गौरतलब है कि हरियाणा में 9 से 12 कक्षा तक के छात्रों के लिए 2 नवंबर से स्कूल खोले गए थे। हालांकि छात्रों को अभिभावकों की अनुमति के साथ ही स्कूल आने की इजाजत थी।

Tags :
|

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2020 lifeberrys.com