• होम
  • न्यूज़
  • राम मंदिर भूमि पूजन : स्वामी रामदेव ने कहा - कार्यक्रम में शामिल होना मेरा सौभाग्य

राम मंदिर भूमि पूजन : स्वामी रामदेव ने कहा - कार्यक्रम में शामिल होना मेरा सौभाग्य

By: Ankur Tue, 04 Aug 2020 4:54 PM

राम मंदिर भूमि पूजन : स्वामी रामदेव ने कहा - कार्यक्रम में शामिल होना मेरा सौभाग्य

अयोध्या में 5 अगस्त को ऐतिहासिक धार्मिक कार्यक्रम होने वाला है। बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राम मंदिर का भूमि पूजन करेंगे। सुरक्षा के लिहाज से आज शाम तक अयोध्या की सीमाएं सील कर दी जाएंगी। अयोध्या में मेहमानों का आना भी शुरू हो गया है। इस कार्यक्रम के कई लोगों को आमंत्रित किया गया हैं जिसको लेकर भी सियासी गलियारों में राजनीति देखने को मिल रही है। योग गुरु स्वामी रामदेव भी इसमें आमत्रित किए गए है। इस कार्यक्रम को लेकर स्वामी रामदेव ने कहा कि इस कार्यक्रम में शामिल होना मेरा सौभाग्य हैं। योग गुरु स्वामी रामदेव अयोध्या पहुंच चुके हैं। रामदेव के साथ परमार्थ आश्रम ऋषिकेश के स्वामी चिदानंद मुनि सहित अनेक संत भी अयोध्या आए हैं।

मंगलवार को पतंजलि योगपीठ में महामंत्री आचार्य बालकृष्ण का जन्मदिन जड़ी बूटी दिवस के रूप में मनाया गया। इस दौरान बाबा रामदेव सहित पतंजलि के स्वयं सेवक मौजूद रहे। इसके बाद बाबा रामदेव अयोध्या के लिए रवाना हो गए।

स्वामी रामदेव ने कहा कि उनकी आंखों के सामने मंदिर का निर्माण हो रहा है ये उनके जीवन में सौभाग्य की बात है। राम देव ने करोड़ों हिंदुओ का शताब्दियों पुराना सपना पूरा होने के लिए पीएम मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, साधु संतों, न्यायालय और राम भक्तों को इसका श्रेय दिया। स्वामी रामदेव ने कहा कि आज जब मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम का मंदिर बनने जा रहा है तो अब कृष्ण जन्म भूमि मथुरा और काशी विश्वनाथ पर भी फैसला हो जाना चाहिए।

रामदेव ने अयोध्या रवाना होने से पहले पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि अगर कोरोना संकट नहीं होता तो इस मौके पर अयोध्या में कम से कम एक करोड़ लोग इस ऐतिहासिक पल के साक्षी बनने के लिए पहुंचते।

कहा कि जब मंदिर बनकर तैयार हो जाएगा तो उन्हें उम्मीद है कि मंदिर के शिलान्यास में करीब एक करोड़ राम भक्त अयोध्या पहुंचेंगे। मंदिर निर्माण का श्रेय उन राम भक्तों को है, जिन्होंने इसके लिए संघर्ष किया। साधु संतों, विहिप, आरएसएस, न्यायपालिका के साथ पीएम मोदी की वजह से ही भगवान श्रीराम के मंदिर का भव्य निर्माण हो पा रहा है।

देश सदियों तक पीएम मोदी, अमित शाह और राम भक्तों के संघर्ष को याद रखेगा। स्वामी रामदेव ने कहा कि दुनिया भर में सभी अपने महापुरुषों, अवतारी पुरुषों के प्रतीक स्थानों को सहेज कर रखते हैं। इसलिए मथुरा में श्रीकृष्ण जन्मस्थान और बनारस में काशी विश्वनाथ मंदिर का भी जल्द फैसला हो जाना चाहिए।

ये भी पढ़े :

# राम मंदिर भूमि पूजन / यूपी के दोनों डिप्टी CM का हुआ कोरोना टेस्ट, ये रही रिपोर्ट

# अयोध्या नहीं गए मनोज तिवारी, बोले- राम मंदिर पर राजनीति खत्म होनी चाहिए

# जाने क्यों की गई भगवान राम की मूछों वाली मूर्ति की मांग?

# 5100 कलश-रामधुन में मग्न अयोध्या, एक नज़र डालिए बुधवार को राम नगरी में क्या-क्या खास होने वाला है

# अयोध्या में अनुष्ठान, प्रियंका बोलीं- भूमि पूजन कार्यक्रम राष्ट्रीय एकता और बंधुत्व का अवसर बने

Tags :
|

Advertisement

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2020 lifeberrys.com