Advertisement

  • शादीशुदा बेटी अपनी माँ को इन मौकों पर करती है सबसे ज्यादा याद, आखिर प्यार भरा रिश्ता है

शादीशुदा बेटी अपनी माँ को इन मौकों पर करती है सबसे ज्यादा याद, आखिर प्यार भरा रिश्ता है

By: Ankur Wed, 10 Oct 2018 5:44 PM

शादीशुदा बेटी अपनी माँ को इन मौकों पर करती है सबसे ज्यादा याद, आखिर प्यार भरा रिश्ता है

मां-बेटी का रिश्ता ऐसा होता हैं जिसमें दोनों एक-दूसरे के कई राज जानते हैं और उन्हें छिपाने में पूरी मदद करते हैं। यह रिश्ता अच्छी दोस्त से भी ज्यादा क्लोज होता हैं, जिसमें सभी बातें शेयर की जा सकती हैं। हांलाकि बेटी की शादी के बाद दोनों में दूरियां आ जाती हैं लेकिन प्यार और बढ़ जाता हैं। ऐसे कई मौके आते हैं जब एक शादीशुदा बेटी को अपनी माँ की बहुत ज्यादा याद आती हैं। तो आइये जानते हैं उन पलों के बारे में जब एक बेटी अपनी माँ को याद करती हैं।

* मां के हाथ का खाना

भले ही लड़की खाना बनाने में कितनी ही एक्सपर्ट क्यों न हो लेकिन ससुराल में तरह-तरह का स्वादिष्ट पकवान बनाते समय वह अपनी मां के हाथों के बने पकवान के स्वाद को जरूर याद करती हैं।

* जब सामान न मिले

अगर मां को कही बार जाना होता तो वह फोन करके पहले ही बता देती है कि तुम्हारे कपड़े व खाना बना रखा हैं, टाइम पर खा लेना लेकिन शादी के बाद खुद ही सभी बातों का ध्यान रखना पड़ता। बस इसी पल को याद करते हुए बेटी सोचती है कि मां होती तो कितना अच्छा होता।

# पढ़ाई के लिए बेटी को भेज रहे है दूर, जरूर रखें इन बातों का ध्यान

# लडकियां लेती है इन झूठ का सहारा, देती है प्यार में धोखा

married daughter,occasions to remember mom,relationship,mother-daughter relation ,शादीशुदा लडकी, माँ की याद, रिश्ते-नाते, माँ-बेटी क रिश्ता

* बीमारी के दिन

बीमार बच्चे होते है लेकिन सारा दिन व रात चिंता में मां रहती है। समय-समय पर खाना व दवाइयां देती है लेकिन शादी के बाद सब बदल जाता है। शादी के बाद तपते बुखार में भी खुद ही सब कुछ करना पड़े तो बेटी अक्सर सोचती है कि बस जल्दी से मां आ जाए और गोद में सिर रखकर सुला दे।

* सुबह जल्दी उठना

शादी से पहले जब मां बार-बार आवाज लगाकर उठाती थी तो बेहद गुस्सा आता था लेकिन शादी के बाद मां की यहीं आवाज सुनने के लिए कान तरस जाते है क्योंकि मां की तरह प्यार से उठाने वाला कोई नहीं मिलता।

* जब नखरे करने न मिले

मां अपने बच्चे के हजार नखरे भी सह लेती है लेकिन ससुराल में ऐसा बिल्कुल नहीं होता। मां से तो हम जिद्द करके कुछ भी बनवा लेते है लेकिन कोई मां की तरह उसे पूरा करने वाला नहीं मिलता तो तब याद आता है कि काश मां होती सभी ख्वाहिशे झट से पूरी कर देती।

# हर पति-पत्नी के रिश्ते में पनपती है ये 5 शिकायतें, जानकर आप भी करेंगे समर्थन

# हर बेटी चाहती है अपने पिता से ये 4 बातें सुनना, जानकर आप भी रह जाएँगे हैरान

Advertisement