Advertisement

  • होम
  • मनोरंजन
  • जीवंत हुआ ‘आज फिर जीने की तमन्ना है. . . ’, 25 साल बाद नाचीं वहीदा रहमान

जीवंत हुआ ‘आज फिर जीने की तमन्ना है. . . ’, 25 साल बाद नाचीं वहीदा रहमान

By: Rajesh Tue, 16 Apr 2019 08:22 AM

जीवंत हुआ ‘आज फिर जीने की तमन्ना है. . . ’, 25 साल बाद नाचीं वहीदा रहमान

हिन्दी सिनेमा के गुजरे जमाने को आज के दौर में टीवी के परदे पर रू-ब-रू देखना बेचैन मन को सुकून देता है। ऐसा कुछ उस वक्त महसूस हुआ जब रविवार की रात को हिन्दी सिने जगत की दो महान तारिकाओं को एक साथ एक मंच पर देखा। मौका था सुपर डांसर-3 का जहाँ पर वहीदा रहमान और आशा पारिख बतौर मेहमान इस शो में पहुँची थीं। शो का वो पल अविस्मरणीय बन गया जब वहीदा रहमान ने 81 वर्ष की उम्र में अपनी क्लासिकल फिल्म ‘गाइड’ के कालजयी गीत ‘कांटों से खींच के ये आंचल. . . तोड़ के बंधन बांधी पायल. . . आज फिर जीने की तमन्ना है आज फिर मरने का इरादा है. . .’ पर शिल्पा शेट्टी के कहने पर डांस किया। विश्व की ख्यातनाम सुन्दरियों में शामिल रहीं वहीदा रहमान ने गहरे हरे रंग की साड़ी पहने जब अपनी बांहों को फैलाते हुए इस गीत पर नृत्य शुरू किया तो जेहन में ‘गाइड’ का यह गीत किसी चलचित्र की भांति चलने लगा जिसमें वहीदा रहमान ने सफेद रंग क्रीम कलर के बॉर्डर वाली साड़ी पहन रखी थी और वो दिल खोलकर अपनी इच्छाओं को अभिव्यक्त कर रही थीं।

शो में पहुंची वहीदा रहमान और आशा पारिख ने फिल्मी दुनिया के कई किस्से दर्शकों और जजों के साथ साझा किए। शो में शिल्पा शेट्टी ने वहीदा रहमान के सामने ये खुलासा किया कि आपको मैं अपना गुरु मानती हूं। अगर आप मुझे थोड़ा सा सिखा दें तो मेरी जिन्दगी सफल होगी। शिल्पा के इस प्यार भरे निमंत्रण को स्वीकार करते हुए वहीदा रहमान स्टेज पर पहुंची जहाँ उन्होंने इस गीत पर नृत्य किया।
इस मौके पर वहीदा रहमान ने बताया कि तकरीबन 25 साल बाद मैंने डांस किया है। आज मुझे जो सम्मान और प्यार मिला है वो बहुत बड़ी चीज है। आप सबका शुक्रिया। पिछले तीन वर्षों से लगातार इस शो को जज कर रहे निर्माता निर्देशक अनुराग बसु ने कहा आज जो मैंने देखा वो सबसे शानदार एपिसोड रहा। मैं यहां हूँ ये मेरी खुशकस्मिती है।

वहीदा रहमान ने शो के दौरान अपनी गायिकी का हुनर भी दिखाया। बहुत कम लोगों को इस बात की जानकारी है कि वहीदा रहमान अच्छी गायिका भी हैं। जब शो में इस बात की जानकारी मिली तो वहीदा रहमान ने ‘कागज के फूल’ का अमर गीत ‘वक्त ने किया क्या हसीं सितम हम रहे न हम तुम रहे न तुम’ गाया।

Tags :

Advertisement

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2020 lifeberrys.com

Error opening cache file