ये कैसा अंधविश्वास! बारिश के लिए सरपंच को गधे पर बैठाकर पूरे गांव में घुमाया

By: Ankur Thu, 22 July 2021 7:13 PM

ये कैसा अंधविश्वास! बारिश के लिए सरपंच को गधे पर बैठाकर पूरे गांव में घुमाया

सावन का मौसम आ चुका हैं लेकिन अभी तक बारिश नहीं आई हैं। कई ऐसे हिस्से हैं जहां बरसात का नामोनिशान भी नहीं हैं। देखा जा रहा हैं कि कई लोग इसके लिए टोटके आजमाते हैं। इसका एक हैरान करने वाला मामला सामने आया मध्यप्रदेश के विदिशा के नजदीक रंगई गांव में जहां बारिश के लिए सरपंच को गधे पर बैठाकर पूरे गांव में घुमाया गया। इसके बाद बुजुर्ग महिलाओं ने गधे पर बैठे सरपंच की आरती भी उतारी। टोटके के अनुसार गांव का प्रधान अगर गधे की सवारी कर भगवान से प्रार्थना करे तो बरसात जल्दी होती है।

गधे पर बैठकर पूरे गांव में घूमने वाले सरपंच सुशील वर्मा ने इसे लेकर कहा कि मैंने अपने बुजुर्गों से सुना था कि ऐसा करने से बारिश होने लगती है। बारिश न होने की वजह से फसलों को काफी नुकसान हो रहा है, यह नुकसान और न बढ़े इसलिए मैंने यह फैसला लिया। वहीं, एक ग्रामीण ने बताया कि इसी तरह का टोटका एक बार उज्जैन के एक गांव में भी किया गया था और फिर वहां खूब बारिश हुई थी।

बरसात के लिए किए जाते हैं अलग-अलग टोटके

बारिश के लिए इंद्रदेव को खुश करने के उद्देश्य से गधे पर बैठकर गांव में घूमना सुनने में अजीब जरूर है लेकिन इसी तरह के कई टोटके मध्यप्रदेश के कई जिलों में चल रहे हैं। बीते दिनों बारिश के लिए मेढक और मेढकी की शादी कराने की खबर भी सामने आई थी। वहीं, राज्य के कई जिलों में बारिश न होने की वजह से ग्रामीण क्षेत्रों में इन अंधविश्वासों की ओर लोगों का विश्वास व रुख और बढ़ा गया है।

ये भी पढ़े :

# उत्तराखंड : कोरोना संक्रमण जरूर कम हुआ लेकिन मौतें अभी भी जारी, फिर बढ़े सक्रिय मामले

# गोरखपुर : 250 रुपये की उधारी ना लौटाने पर कर डाली हत्या, आरोपी गिरफ्तार

# सवाई माधेापुर : आमेर से चौथ के बरवाड़ा पहुंच प्रेमी जोड़े ने फंदा डाल एकसाथ किया सुसाइड

# टोंक : ट्रेन की पटरियों पर मिला अधेड़ का शव, मानसिक तनाव का कर रहा था सामना

# अलवर : दादा के भाई के घर से 14 साल के लड़के ने चुराए 30 लाख रूपये, ली पडोसी युवक की मदद

lifeberrys हिंदी पर देश-विदेश की ताजा Hindi News पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अपडेट। Viral News in Hindi के लिए क्लिक करें अजब गजब सेक्‍शन
|

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2022 lifeberrys.com