अयोध्या में दीपोत्सव आज, रामनगरी में बनेगा विश्व रिकॉर्ड, 5 लाख 51 हजार दीयों से जगमगाएगा शहर

By: Pinki Sat, 26 Oct 2019 08:43 AM

अयोध्या में दीपोत्सव आज, रामनगरी में बनेगा विश्व रिकॉर्ड, 5 लाख 51 हजार दीयों से जगमगाएगा शहर

अयोध्या (Ayodhya) में आज शनिवार यानि छोटी दिवाली पर समूचे अयोध्या और सभी घाटों पर 5 लाख 51 हजार दीये जलाए जाएंगे। इसके साथ ही उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार 226 करोड़ की योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास करेगी। शाम 6 बजे तक परियोजनाओं का शिलान्यास, लोकार्पण और अतिथियों का संबोधन होगा। इस बार 7 देशों की रामलीला भी लोगों के आकर्षण का केंद्र बनेगी। राज्य सरकार ने इस पूरे कार्यक्रम को राज्य मेला घोषित कर दिया है, जिससे यह आगे भी बिना रुके चलता रहे। राज्य सरकार की ओर से बताया गया कि अयोध्या में शनिवार को सुबह 10 से 2 बजे तक भगवान श्रीराम के लीला चरित्र से जुड़ी विभिन्न झांकियों समेत भव्य शोभायात्रा निकलेगी। यह यात्रा साकेत महाविद्यालय से शुरू होकर रामकथा पार्क में समाप्त होगी। इसमें कई देशों के कलाकार भाग लेंगे। रामकथा पार्क में नेपाल, श्रीलंका, इंडोनेशिया, फिलीपींस की रामलीला का मंचन होगा। लेजर शो से राम कथा के प्रसंग दिखाए जाएंगे।

मुख्यमंत्री पौने चार बजे से चार बजे तक शोभायात्रा का अवलोकन करेंगे। राज्य सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि इसके बाद श्रीराम-सीता का रामकथा पार्क में हेलीकॉप्टर से प्रतीकात्मक अवतरण और भरत मिलाप का कार्यक्रम होगा। सवा चार बजे से चार बजकर 40 मिनट तक रामकथा पार्क आगमन पर श्रीराम-जानकी का पूजन-वंदन, आरती और श्रीराम का प्रतीकात्मक राज्याभिषेक होगा।

इस भव्य कार्यक्रम में राज्य की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी के अलावा फिजी गणराज्य की उपसभापति एवं सांसद वीना भटनागर और प्रदेश के सभी मंत्री मौजूद रहेंगे।

ayodhya,ayodhya deepotsav,state fair,world record,celebrate diwali,diwali,diwali celebration,yogi adityanath,yogi government,news,news in hindi ,अयोध्या,दीपोत्सव

राम की नगरी अयोध्या के दीपोत्सव में इस बार अवध विश्वविद्यालय पूरी निष्ठा से लगा हुआ है। लगभग 6000 छात्र-छात्राएं और शिक्षक इस उत्सव को सार्थक बनाने में जुटे हुए हैं। छात्र और शिक्षक 12 घाटों पर दीये सजाने में जुटे हैं। उनकी नजर शनिवार की शाम दीपक जलाने को लेकर विश्व रिकॉर्ड बनाने की है। अवध विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो मनोज दीक्षित ने बताया कि हर बार की तरह इस बार भी अयोध्या दीपोत्सव का एक रिकॉर्ड बनेगा। इसमें छात्र-छात्राएं पूरे मनोयोग से लगे हुए हैं। हमारे विवि के अलावा कई महाविद्यालय के लोग भी इसमें सहयोगी भूमिका में रहेंगे।

इस बार दीपोत्सव में पिछली बार से दोगुने लोग, तकरीबन 6 हजार वॉलंटियर लगाए गए हैं, जो 12 घाटों पर 4 लाख 25 हजार दीपक सजाए जा रहे हैं। साथ ही साकेत महाविद्यालय में सजे 11 रथों पर भगवान श्रीराम से जुड़े 11 प्रसंगों पर आधारित श्रीरामलीला कमेटियों की तैयारियां भी पूरी हैं।

किस घाट पर कितने दीये

लक्ष्मण घाट: 48,000

वैदेही घाट: 22,000

श्रीराम घाट: 30,000

दशरथ घाट: 39,000

भरत घाट: 17,000,

शत्रुघ्न घाट: 17,000

उमा-नागेश्वर-मांडवी घाट: 52,000

सुतकीर्ति घाट: 40,000

कैकेई घाट: 40,000

सुमित्रा घाट: 40,000

कौशल्या घाट: 40,000

उर्मिला घाट: 40,000

ayodhya,ayodhya deepotsav,state fair,world record,celebrate diwali,diwali,diwali celebration,yogi adityanath,yogi government,news,news in hindi ,अयोध्या,दीपोत्सव

राम की पैड़ी पर बनेगा विश्व रिकार्ड

वहीं राम की पैड़ी पर 5,51,000 दीये जलाकर विश्व रिकार्ड बनाया जाएगा । इसके लिए लंबा वक्त चाहिए। यही वजह है कि सैकड़ों छात्र-छात्राएं दीपकों को व्यवस्थित तौर पर घाट पर सजा रहे हैं। बाकायदा एक चौकोना बनाया गया है, जिसमें 100 दीये रखे जाएंगे और घाट के दोनों तरफ दीये लगाए जा रहे हैं।

लोगों का आना अयोध्या में शुरू हो चुका है। राम की पैड़ी पर दीपोत्सव के बाद साउंड एंड लेजर शो का एक बड़ा कार्यक्रम जहां भगवान राम के जीवन चरित्र पर आधारित 15 मिनट का साउंड लेजर शो दिखाया जाएगा। पिछले 2 सालों से अयोध्या की दीपोत्सव देख रहे लोग इस बार ज्यादा उत्साहित हैं, क्योंकि दिवाली के बाद उन्हें उम्मीद है कि राम मंदिर पर भी फैसला आएगा।

हनुमानगढ़ी, रामदास की छावनी, दशरथ महल, रामवल्लभ कुंज, बड़े भक्त हनुमान समेत चिन्हित सभी बड़े मंदिरों में जबर्दस्त लाइटिंग की गई है। साथ ही आयोजन को सफल बनाने में ढाई हजार बच्चे भगवान राम के जीवन पर आधारित चित्रकारी को अंतिम रूप दे रहे हैं। कोई भगवान राम को अपने तरीके से रूप दे रहा है तो कोई उनके शस्त्र धनुष और तीर बना रहा है। पहली बार बड़ी संख्या में छात्र-छात्राओं ने चित्रकारी की है, जिसे प्रदर्शनी के तौर पर भी दीपोत्सव में दिखाया जाएगा।

शनिवार को आयोजित होने वाले दीपोत्सव को लेकर प्रशासन ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं। इस दौरान चप्पे-चप्पे पर आरएएफ, पीएसी व पुलिस के जवानों के साथ होमगार्ड, फ्लड कंपनी व खुफिया विभाग के लोग तैनात रहेंगे।

एसपी सिटी विजयपाल सिंह के अनुसार दुकानदारों को सहूलियत दी जाएगी, दुकानें पूर्ववत लगेंगी, अतिक्रमण नहीं करने दिया जाएगा। वहीं, रूट डायवर्जन के चलते शनिवार सुबह से कार्यक्रम समाप्ति तक भारी वाहनों के प्रवेश पर रोक रहेगी।

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन lifeberrys हिंदी की वेबसाइट पर। जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश से जुड़ीNews in Hindi
|
|

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2022 lifeberrys.com