चक्रवाती तूफान 'ताऊ ते' का राजस्थान में दिखने लगा असर, डूंगरपुर जिले में जबर्दस्त आंधी-तूफान और बारिश का दौर शुरू

By: Pinki Mon, 17 May 2021 12:55 PM

चक्रवाती तूफान 'ताऊ ते' का राजस्थान में दिखने लगा असर, डूंगरपुर जिले में जबर्दस्त आंधी-तूफान और बारिश का दौर शुरू

चक्रवाती तूफान ताऊ ते 185 किमी/घंटे की रफ्तार के साथ मुंबई को टच करता हुआ गुजरात की ओर बढ़ गया है। ताऊ ते का असर राजस्थान में भी दिखना शुरू हो गया है। ताऊ ते के चलते राजस्थान के डूंगरपुर जिले में जबर्दस्त आंधी-तूफान और बारिश का दौर शुरू हो गया है। डूंगरपुर में धम्बोला थाना क्षेत्र के नगरिया पंचेला गांव में आकाशीय बिजली गिरने से दो बच्चों की मौत हो गई। तेज अंधड़ के दौरान वे पेड़ से गिरे आम एकत्रित करने लगे और इसी दौरान पेड़ पर आकाशीय बिजली गिर गई। दो बच्चों ने मौके पर ही दम तोड़ दिया जबकि तीन अन्य घायल हो गए। प्रतापगढ़ जिले में भी एक व्यक्ति की जान चली गई। आकाशीय बिजली के कारण डूंगरपुर और प्रतापगढ़ में एक दर्जन से ज्यादा मवेशी भी अकाल मौत के शिकार हो गए।

डूंगरपुर जिले के लूणिया गांव में एक किसान तथा प्रतापगढ़ जिले के वीरपुर गांव में बिजली गिरने से एक शिक्षक की मौत हो गई। जिला प्रशासन की ओर से मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख की आर्थिक सहायता उपलब्ध कराने के आदेश दिए गए।

उदयपुर संभाग में भी ताऊ ते के चलते मौसम में बदलाव देखने को मिला है। 18 और 19 मई को उदयपुर संभाग के कुछ जिलों में तेज हवाओं के साथ अत्यंत भारी बारिश की संभावना है। पिछले बीस घंटे से संभाग के बारिश का दौर जारी है। ताऊ ते तूफान के मद्देनजर उदयपुर संभाग को रेड अलर्ट जोन में रखा गया है। उदयपुर संभाग में चक्रवाती तूफान टाक्टे की वजह से सोमवार को 40-50 किमी. प्रति घंटा की रफ्तार की हवाओं के साथ हल्के से मध्यम बारिश तथा एक-दो स्थानों पर भारी बारिश की संभावना है। 18 मई मंगलवार और 19 मई गुरुवार को इस सिस्टम का सर्वाधिक असर देखने को मिलेगा।

18 और 19 मई को रहेगा जोर पर

राजस्थान के जोधपुर, उदयपुर, अजमेर व कोटा संभाग के जिलों में आंधी और बारिश की गतिविधियों में बढ़ोतरी की आशंका है। इस दौरान 40 से 50 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हवाएं चलने का अनुमान है। मौसम विभाग ने बताया कि इस चक्रवात का सर्वाधिक असर राजस्थान में 18 और 19 मई को रहेगा और इस दौरान उदयपुर संभाग के एक दो जिलों में 200 मिलीमीटर तक बारिश दर्ज हो सकती है। इस चक्रवात की वजह से एक ओर जहां बारिश में होगी, वहीं तापमान में भी चार से पांच डिग्री सेल्सियस तक गिरावट आ सकती है। 19 मई को इस चक्रवात का असर अजमेर, जयपुर, भरतपुर, कोटा संभाग के जिलो में भी देखने मिलेगा जिससे गरज के साथ कुछ स्थानों पर मध्यम से भारी बारिश होने का अनुमान है।

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन lifeberrys हिंदी की वेबसाइट पर। जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश से जुड़ीNews in Hindi

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2022 lifeberrys.com