• Hindi News/
  • News/
  • News Railways News Rail Passengers May Have To Pay User Charge 154523

रेल यात्रियों से अब वसूला जाएगा 'यूजर चार्ज', जानिए कितना और किन-किन स्टेशनों पर लगेगा

By: Pinki Sat, 19 Sept 2020 10:01 AM

रेल यात्रियों से अब वसूला जाएगा 'यूजर चार्ज', जानिए  कितना और किन-किन स्टेशनों पर लगेगा

भारतीय रेलवे जल्द ही ट्रेन का सफर करने वालों से यूजर चार्ज (User Charge) वसूलने की तैयारी कर रहा है। ये शुल्क उन स्टेशनों पर लगाया जाएगा जहां पुनर्विकास किया गया है और बसे ज्यादा यात्री पहुंचते हैं। रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष वीके यादव ने एक दिन पहले गुरुवार को कहा था स्टेशनों पर यात्रियों को हवाई अड्डे -जैसी विश्वस्तरीय सुविधा मुहैया कराने के लिए राजस्व बढ़ाने की दिशा में यह कदम उठाया जाएगा। यादव ने कहा कि शुल्क मामूली होगा और देश भर के 7000 स्टेशनों में से करीब 10 से 15% पर यह लागू होगा। रेलवे के अधिकारियों का कहना है कि पहले बड़े स्टेशनों मतलब कि A1 और A श्रेणी के स्टेशनों पर यूजर चार्ज लगाया जाएगा। एक बार लागू हो जाने के बाद रेल यात्रियों से पहली बार इस तरह का शुल्क वसूला जाएगा।

कितने हैं A1 एवं A श्रेणी के स्टेशन

रेल मंत्रालय ने इस समय कमाई के हिसाब से स्टेशनों की श्रेणी तय कर दी है। देश में खूब कमाई करने वाले इस समय 75 स्टेशन हैं। इन्हें A1 स्टेशन का दर्जा हासिल है। इनमें नई दिल्ली, दिल्ली, हावड़ा, सियालदह, लखनउ, वाराणसी, पटना, चंडीगढ़, प्रयागराज आदि स्टेशन शामिल हैं। इनसे थोड़ा कम लेकिन अन्य स्टेशनों से ज्यादा कमाई करने वाले 332 स्टेशन हैं। इन्हें A श्रेणी का स्टेशन कहा जाता है। इनमें बलिया, बस्ती, आजमगढ़, मिर्जापुर, गोंडा, हाजीपुर, गोमो, डाल्टेनगंज, डेहरी आन सोन, गया, आरा, बक्सर, किउल, जमालपुर, दुर्गापुर जैसे स्टेशन शामिल हैं।

रेलवे बोर्ड के आधिकारिक सूत्रों का कहना है कि 1000 से भी ज्यादा स्टेशनों पर जब यूजर चार्ज लगाया जाएगा तो ए1 और ए श्रेणी के स्टेशनों पर तो यूजर चार्ज लगना तय है। इसके अलावा बी श्रेणी के कुछ स्टेशनों पर भी यूजर चार्ज लगाया जाएगा। चूंकि ए1 और ए श्रेणी के स्टेशनों को मिला दें तो यह 407 स्टेशन ही होते हैं।

रेलवे बोर्ड चेयरमैन ने कहा, 'हम यूजर चार्ज के रूप में बहुत छोटी सी राशि वसूलने जा रहे हैं। हम सभी स्टेशनों के लिए यूजर चार्ज की अधिसूचना जारी करने जा रहे हैं। इस तरह के स्टेशनों में दोनों, जिनका पुनर्विकास हो रहा है और जिनका नहीं हो रहा है शामिल होंगे।'

यादव ने आगे बताया, 'स्टेशनों का पुनर्विकास पूरा हो जाने के बाद राशि रियायत में चली जाएगी। तब तक यह राशि रेलवे को स्टेशनों में सुविधाओं के सुधार के लिए मिलती रहेगी। यह एक मामूली राशि होगी, लेकिन यदि हम हवाई अड्डे -जैसी विश्वस्तरीय सुविधा मुहैया कराना चाहते हैं तो यह लेवी महत्वपूर्ण है। हम अपने सभी बड़े रेलवे स्टेशनों को विकसित करना चाहते हैं।'

उन्होंने आगे कहा कि रेलवे सभी 7000 स्टेशनों पर लेवी नहीं लगाएगा, लेकिन उन सभी बड़े स्टेशनों जहां अगले 5 वर्षो में आने वाले यात्रियों की संख्या में वृद्धि होगी वहीं लेवी की वसूली की जाएगी।

आपको बता दे, दिल्ली में हवाई अड्डा पर देखें तो घरेलू और अंतरराष्ट्रीय यात्रियों से अलग अलग यूजर चार्ज लिया जाता है। वह करीब 500 रुपये के करीब होता है। लेकिन रेलवे स्टेशनों पर इतना यूजर चार्ज (User Charges) नहीं लिया जाएगा।

50 रुपये हुए प्लेटफार्म टिकट

गौरतलब है कि दक्षिण पश्चिम रेलवे ने पिछले दिनों प्लेटफार्म टिकटों की कीमत में 400% की वृद्धि करने की घोषणा की थी। दक्षिण पश्चिम रेलवे का कहना था कि यह कदम कोरोना काल में रेलवे प्लेटफार्मों पर भीड़ को रोकने के लिए लगाया गया। चुने हुए रेलवे स्टेशनों पर टिकट की कीमत 10 रुपये से 50 रुपये हो गई है।

ये भी पढ़े :

# 30 सितंबर से क्रेडिट और डेबिट कार्ड के लिए लागू होंगे ये नए नियम, जाने इनके बारें में

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन lifeberrys हिंदी की वेबसाइट पर। जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश से जुड़ीNews in Hindi

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2022 lifeberrys.com