डेल्टा+ वैरिएंट ने बढ़ाई चिंता, खतरे को देखते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्यों को जारी किए निर्देश

By: Pinki Tue, 22 June 2021 6:17 PM

डेल्टा+ वैरिएंट ने बढ़ाई चिंता, खतरे को देखते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्यों को जारी किए निर्देश

कोरोना वायरस के डेल्टा प्लस वेरिएंट (Delta+ Variant) को लेकर मंगलवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने अहम जानकारी साझा की। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा कि डेल्टा प्लस वैरिएंट अभी ब्रिटेन, अमेरिका, जापान, रूस, भारत, पुर्तगाल, स्विटजरलैंड, नेपाल और चीन में है। उन्होंने कहा कि भारत में डेल्टा प्लस के अभी तक 22 मामले सामने आ चुके हैं। अभी इसे वैरिएंट ऑफ इंटरेस्ट की श्रेणी में रखा गया है। भूषण ने बताया कि भारत में ये मामले केरल, मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र में पाए गए हैं।

डेल्टा प्लस वेरियंट को लेकर राज्यों को चिट्ठी

भूषण ने कहा कि राज्यों को चिट्ठी लिखकर डेल्टा प्लस वैरिएंट से निपटने के तरीके बनाए गए हैं। उन्होंने कहा कि हम नहीं चाहते हैं कि डेल्टा प्लस वैरिएंट आगे बढ़े। भूषण ने बताया कि डेल्टा वैरिएंट दुनिया के 80 देशों में है, जिसमें भारत भी शामिल है। इसे वैरिएंट ऑफ कंसर्न की श्रेणी में रखा गया है।

वहीं कोरोना की नई वेव को लेकर नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल ने बताया कि वायरस की नई लहर इसलिए आती है क्योंकि वायरस घूम रहा है। उन्होंने बताया कि अगर हम प्रोटेक्टेड नहीं हैं तो संवेदनशील हैं। अगर वायरस रूप बदल देता है तो दिक्कत हो जाती है।

पॉल ने बताया कि इसे लेकर कोई भी भविष्यवाणी करना मुश्किल है। पॉल ने कहा कि हम वैक्सीन के जरिए वायरस की ससेप्टिबिलिटी को बदल सकते हैं। उन्होंने कहा कि अगर वायरस को मौका नहीं देते हैं तो दिक्कत नहीं होगी।

वीके पॉल ने कहा कि अब तक कई देशों में कोरोना की चार लहरें आ चुकी हैं लेकिन कहीं इसे लेकर कोई नियम नहीं है।

स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने डेल्टा वेरिएंट पर वैक्सीन की प्रभावकारिता को लेकर बताया कि दोनों भारतीय वैक्सीन डेल्टा वेरियंट पर असरदार हैं। उन्होंने कहा कि स्पुतनिक देरी से आयी है लेकिन अभी कोविशील्ड और कोवैक्सिन पर पाया गया कि दोनों वैक्सीन डेल्टा वेरियंट पर असरदार है।

88 लाख से ज्यादा वैक्सीन की डोज़ लगाई गई

टीकाकरण को लेकर जानकारी देते हुए भूषण ने बताया कि 21 जून को पूरे देशभर में 88,09,000 कोविड वैक्सीन की डोज़ लगाई गई। उन्होंने कहा कि 40,43,000 वैक्सीन की डोज़ कल महिलाओं को लगाई गई और 47,24,283 वैक्सीन की डोज़ पुरुषों को लगाई गई।

रिकवरी रेट 96.5%, पॉजिटिविटी दर 3.4%

कोरोना के नए मामलों को लेकर भूषण ने कहा कि प्रतिदिन आने वाले कोविड मामलों में काफी गिरावट दर्ज़ की गई है। देश में 135 ज़िले ऐसे हैं जिसमें प्रतिदिन 100 नए मामले सामने आ रहे हैं। रिकवरी दर देश में 96.5% है। पॉजिटिविटी दर घटकर 3.4% हो गई है।

वैक्सीन-एंटीबॉडी भी नहीं कर सकती सामना


उधर, इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक मशहूर वायरोलॉजिस्ट प्रोफेसर शाहिद जमील ने कहा है कि डेल्टा प्लस वैरिएंट, वैक्सीन लेने से शरीर में बनी रोग प्रतिरोधक क्षमता (इम्यूनिटी) को बेअसर कर सकता है। उनका यह भी कहना है कि अगर आप कोरोना संक्रमण से ठीक हो चुके हैं और आपमें एंटीबॉडी बन चुकी है, तो वो भी नए वैरिएंट का मुकाबला नहीं कर सकती।

दिल्ली एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने पिछले हफ्ते कहा था कि हम इस वायरस को हल्के में नहीं ले सकते। हमें यह समझना होगा कि वायरस बदल रहा है। वह जिंदा रहना चाहता है और ज्यादा से ज्यादा लोगों को संक्रमित करना चाहता है। ब्रिटेन से सबक लेना चाहिए, जहां अनलॉक शुरू होते ही नए केस सामने आ रहे हैं।

डेल्टा-प्लस वैरिएंट क्या है?

भारत में मिले कोरोना वायरस के डबल म्यूटेंट स्ट्रेन B.1.617.2 को ही विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने डेल्टा (Delta) नाम दिया है। B.1.617.2 में एक और म्यूटेशन K417N हुआ है, जो इससे पहले कोरोना वायरस के बीटा और गामा वैरिएंट्स में भी मिला था। नए म्यूटेशन के बाद बने वैरिएंट को डेल्टा+ वैरिएंट (Delta+ Variant) या AY.1 या B.1.617.2.1 कहा जा रहा है।

K417N म्यूटेशन वाले यह वैरिएंट्स ओरिजिनल वायरस से अधिक इंफेक्शियस हैं। यह वैरिएंट वैक्सीन व दवाओं के असर को कमजोर कर सकते हैं।

दरअसल, B.1.617 लाइनेज से ही डेल्टा वैरिएंट (B.1.617.2) निकला है। इसी लाइनेज के दो और वैरिएंट्स हैं- B.1.617.1 और B.1.617.3, जिनमें B.1.617.1 को WHO ने वैरिएंट ऑफ इंटरेस्ट (VOI) की लिस्ट में रखा है और कप्पा नाम दिया है।

ये भी पढ़े :

# जाह्नवी कपूर ने शेयर किया मस्तीभरा वीडियो तो भाई अर्जुन कपूर से मिला यह रिएक्शन

# दक्षिण अफ्रीका ने वेस्टइंडीज को उसके घर में ही चटाई धूल, टेस्ट सीरीज में किया 2-0 से सफाया

# पंजाब : गले में फंदा लगा पंखे से लटक महिला ने की आत्महत्या, ससुराल वालों पर लगे दहेज के आरोप

# अस्पताल से डिस्चार्ज हुए कोरोना मरीजों पर हुई शोध, सामने आए भयावह परिणाम

# बच्चा कोविड से तो उबर गया, फिर भी रहें अलर्ट! हल्के में न लें ये लक्षण, करें ऐसा

# बिकिनी-रैप पैंट में मलाइका अरोड़ा की इन तस्वीरों ने बढ़ाया इंटरनेट का पारा, PHOTOS देख फैंस को आया पसीना

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन lifeberrys हिंदी की वेबसाइट पर। जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश से जुड़ीNews in Hindi

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2022 lifeberrys.com