अभी भी वक्त है छोड़ दीजिए सिगरेट पीना, स्‍टडी का दावा - फिर से ठीक हो जाएंगे फेफड़े

By: Pinki Mon, 03 Feb 2020 10:04 AM

अभी भी वक्त है छोड़ दीजिए सिगरेट पीना, स्‍टडी का दावा - फिर से ठीक हो जाएंगे फेफड़े

जो लोग यह कहते है कि अब सिगरेट छोड़ने का क्या फायदा पहले ही काफी देर हो चुकी है। उन लोगों के लिए यह खबर बड़े काम की है। आपको बता दे, एक स्टडी में सामने आया है कि स्मोकिंग छोड़ने के लिए कभी भी देर नहीं होती। स्टडी के मुताबिक स्मोकिंग छोड़ने से न सिर्फ फेफड़ों को हो रहा नुकसान कम होता बल्कि समय के साथ फेफड़े ठीक भी हो जाते हैं। स्टडी में पाया गया कि सिगरेट छोड़ने के बाद कैंसर प्रोन सेल्स की जगह स्वस्थ सेल्स ले लेते हैं। स्टडी में पाया गया कि स्मोकिंग करने वालों के फेफड़े के 10 सेल्‍स में से 9 सेल्‍स में सुधार हो सकता है। इसमें वो सेल्‍स भी शामिल हैं जो कि कैंसर का कारण बनते हैं। पर जो लोग स्मोकिंग करना छोड़ चुके थे उनके खराब सेल्‍स की जगह हेल्‍दी सेल्‍स ने ले ली थी जो कि उन लोगों के सेल्‍स की तरह थीं जिन्होंने कभी स्मोक नहीं किया था।

smoking,lung cancer,cancer,peter campbell,wellcome sanger institute,tobacco,research,Health , छोड़ दीजिए सिगरेट पीना

जापान टाइम्‍स के मुताबिक यूके स्थित वेलकम सेंगर इंस्टीट्यूट के पीटर कैंपबैल का कहना है कि लगातार 30 से 40 साल तक स्मोकिंग करने वाले कहते हैं कि अब स्मोकिंग छोड़कर क्या फायदा, जो नुकसान होना है वो तो हो गया है। हमारी स्टडी की खास बात यह है कि हमने पाया कि स्मोकिंग कभी भी छोड़ी जा सकती है। स्मोकिंग छोड़ने से व्यक्ति के दोबारा स्वस्थ होने की उम्मीद भी रहती है। कैंपबेल आयोजित की गई स्टडी में जॉइंट सीनियर ऑथर हैं।

smoking,lung cancer,cancer,peter campbell,wellcome sanger institute,tobacco,research,Health , छोड़ दीजिए सिगरेट पीना

उन्होंने आगे बताया कि जिन लोगों ने स्टडी में हिस्सा लिया उन्होंने जिंदगी में सिगरेट के 15 हजार से ज्यादा डिब्बे खत्म किए थे। स्मोकिंग छोड़ने के कुछ सालों बाद सेल्स में तंबाकू से कोई नुकसान नहीं देखा गया। बता दें कि इस स्टडी में 16 लोगों ने हिस्सा लिया था और हर एक व्यक्ति की लंग बायोप्सी की गई थी। जापान टाइम्स के मुताबिक स्टडी में हिस्सा लेने वाले लोगों में स्मोकर, स्मोकिंग छोड़ चुके, एडल्ट और बच्चे शामिल थे।

|

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2022 lifeberrys.com