नस पर नस चढ़ने की समस्या बहुत तकलीफदेह, इन देसी उपायों से मिलेगी जल्द राहत

By: Ankur Thu, 22 Aug 2019 00:21 AM

नस पर नस चढ़ने की समस्या बहुत तकलीफदेह, इन देसी उपायों से मिलेगी जल्द राहत

अक्सर देखा गया है कि लोगों को नस पर नस चढ़ने की तकलीफ होती हैं जो कि काफी पीड़ादायक और असहनीय होती हैं। नस चढ़ने की समस्या से मांसपेशियों में खिंचाव और सूजन की समस्या भी होती हैं। इसके कई कारण हो सकते हैं जिनमें से मुख्य रूप से शारीरिक कमजोरी, अधिक तनाव लेना आदि होते हैं। हांलाकि यह समस्या कुछ ही देर के लिए होती हैं लेकिन काफी पीड़ादाई होती हैं। इसलिए आज हम आपके लिए कुछ देसी उपाय लेकर आए हैं जो आपको इस समस्या से जल्द राहत दिलाएंगे। तो आइये जानते है इन उपायों के बारे में...

नमक


नस चढ़ जाए तो थोड़ा-सा नमक लेकर उसे धीरे-धीरे चाटते रहें। कुछ देर तक ऐसा करने से आप खुद फर्क महसूस करेंगे।

केला

शरीर में पोटैशियम की मात्रा कम होने के कारण भी नस चढ़ जाती हैं। ऐसे में इस दर्द से निजात पाने का सबसे आसान उपाय है केले का सेवन। इसमें पोटेशियम भरपूर मात्रा में होता है जिससे नस उतर जाती है।

बर्फ से सिंकाई

जिस हिस्से में नस चढ़ी हो वहां कपड़े में बर्फ डालकर उससे सिंकाई करें। इससे आपको कुछ देर में ही आराम मिल जाएगा।

तकिए का यूज

अगर सोते वक्त नस चढ़ जाए तो पैर को किसी उंची जगह पर रख दें, या फिर आप अपने पैर के नीचे तकिया रख लें। ऐसा करने से भी आपको थोड़ी देर में आराम मिल जाएगा।

bones,muscle,pain,remedies,salt,banana,nutrients,Health,cramps,muscle cramps,Health tips,health tips in hindi ,नस पर नस चढ़ना

कान के प्वाइंट को दबाएं

जिस हिस्से में नस चढ़ी हो उसके विपरीत भाग के कान के निचले जोड़ पर उंगली से दबाते हुए 10 सेकेंड तक उंगली को हल्का-सा ऊपर और नीचे की तरफ करें। इससे तनाव रिलीज होगा और नस उतर जाएगी।

नाखून के प्वाइंट

जिस तरफ खिंचाव है उसी तरफ की हाथ की उंगुली के नाखून और त्वचा के बीच के भाग को दबाएं। उसे तब तक प्रेस कर के रखें जब तक आपकी नस उतर ना जाए।

स्ट्रेचिंग करें

नस चढ़ने पर उस हिस्से को स्ट्रेच करें। जब आप स्ट्रेचिंग करते हैं, तब आपकी मांसपेशी जिस तरफ खिंची होती है, उससे उल्टी तरफ खिंचने लगती है। मगर ध्यान रहे कि आप ज्यादा अधिक जोर लगाकर स्ट्रेचिंग न करें।

ऑयल मसाज

गर्दन, हाथ और पैर की नस चढ़ने पर एसेंशियल ऑयल से मसाज करें। इससे खून का दौरा बढ़ता है जिस से रोगी को तुरंत आराम मिलता है।

|
|
|
|
|
|
|

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2022 lifeberrys.com