Bhai Dooj 2019: पाना चाहते है जीवन में सुख-समृद्धि, करें भगवान चित्रगुप्त की पूजा

By: Ankur Tue, 22 Oct 2019 5:06 PM

Bhai Dooj 2019: पाना चाहते है जीवन में सुख-समृद्धि, करें भगवान चित्रगुप्त की पूजा

दिवाली के दूसरे दिन भाई दूज का त्यौंहार मनाया जाता हैं जो की भाई-बहिन के रिश्ते के प्यार को दर्शाता हैं। इस त्यौंहार का जितना महत्व इस रिश्ते को लेकर हैं उतना ही ज्योतिष से भी, जी हां, भाई दूज के दिन की गई भगवान चित्रगुप्त की पूजा आपक जीवन में सुख-समृद्धि ला सकती हैं। भाईदूज के दिन विशेष रूप से कलम और बही की पूजा की जाती है, क्योंकि ये दोनों ही चीजें भगवान चित्रगुप्त को पसंद हैं।

यमराज के आलेखक भगवान चित्रगुप्त की पूजा भाई दूज के दिन की जाती है। प्रत्येक व्यक्ति के पाप-पुण्य का लेखा जोखा रखने वाले भगवान चित्रगुप्त ब्रह्मदेव की संतान हैं। भगवान चित्रगुप्त कायस्थ समाज के प्रमुख आराध्य देवता हैं। पूजन के लिए भाईदूज के दिन भगवान चित्रगुप्त की प्रतिमा स्थापित की जाएगी और एक दिन बाद यानी भाईदूज के अगले दिन उसे विधि-विधान के साथ विसर्जन किया जाएगा। हिंदू धर्म में भगवान चित्रगुप्त की पूजा का विशेष महत्व है।

भगवान चित्रगुप्त का विशेष पूजन कार्तिक शुक्ल की द्वितीया को लेखनी के रूप में किया जाता है। आज वणिक वर्ग भगवान चित्रगुप्त की पूजा करने के साथ-साथ अपने आय-व्यय का ब्योरा उनके सामने प्रस्तुत करता है, ताकि आने वाले वर्ष में उनकी कृपा बनी रहे और व्यापार में, सुख-समृद्धि में वृद्धि हो। भगवान चित्रगुप्त का आशीर्वाद पाने के लिए आज के दिन नई बही में 'श्री' लिखकर कार्य का शुभारंभ किया जाता है। अपने आराध्य को प्रसन्न कर उनकी कृपा पाने के लिए आज भक्ति भाव के साथ '‎ॐ श्री चित्रगुप्ताय नमः' दिव्य मंत्र का कम से कम 108 बार जाप अवश्य करें।

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2022 lifeberrys.com