Advertisement

  • ग़ज़ल गायकी को नए आयाम पे पहुंचाया पंकज उधास ने,आइये जानते है इनके जीवन से जुडी कुछ रोचक बातें

ग़ज़ल गायकी को नए आयाम पे पहुंचाया पंकज उधास ने,आइये जानते है इनके जीवन से जुडी कुछ रोचक बातें

By: Kratika Wed, 17 May 2017 12:42 PM

ग़ज़ल गायकी को नए आयाम पे पहुंचाया पंकज उधास ने,आइये जानते है इनके जीवन से जुडी कुछ रोचक बातें

संगीत जगत में पंकज उधास एक ऐसे गजल गायक हैं जो अपनी गायकी से पिछले चार दशक से श्रोताओ को मंत्रमुग्ध कर दिया है। उनके जन्मदिवस के अवसर पर एक नजर डालते है उनके जीवन पर। पंकज का जन्म 17 मई 1951 को गुजरात के राजकोट के निकट जेटपुर में जमींदार गुजराती परिवार में हुआ। उनके बड़े भाई मनहर उधास जाने माने पाश्र्वगायक हैं। घर में संगीत के माहौल से पंकाज की भी रूचि संगीत की ओर हो गई।

# ‘गली बॉय’ का कमाल: 10वाँ साल, 16 फिल्में, 28 पुरस्कार, बॉलीवुड के नए सरताज

# यामी गौतम के साथ हुआ हादसा, फिर भी मिली तारीफ, कहा - मेरा जोश हमेशा हाई रहता है

birthday special,some interesting facts of pankaj udhas who gave ghazal singing a new phase,ghazal singer,top 5 songs of pankaj udhas

महज सात वर्ष की उम्र से ही पंकज गाना गाने लगे।एक बार पकंज को एक संगीत कार्यक्रम में हिस्सा लेने का मौका मिला जहां उन्होंने 'ए मेरे वतन के लोगो जरा आंख में भर लो पानी' गीत गाया। इस गीत को सुनकर श्रोता भाव विभोर हो उठे। उनमें से एक ने पंकज को खुश होकर 51 रूपये दिए। इस बीच पंकज राजकोट की संगीत नाट्य अकादमी से जुड़ गए और तबला बजाना सीखने लगे।

# 'बाहर कम से कम 10 हजार हैं और हम.. 21', ऐसे ही कुछ दमदार डायलाग के साथ रिलीज हुआ केसरी का ट्रेलर

# अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर प्रदर्शित होगी ‘बदला’, शाहरुख खान का कैमियो!

birthday special,some interesting facts of pankaj udhas who gave ghazal singing a new phase,ghazal singer,top 5 songs of pankaj udhas

पंकज के सिने करियर की शुरूआत 1972 में प्रदर्शित फिल्म 'कामना' से हुई लेकिन कमजोर पटकथा और निर्देशन के कारण फिल्म टिकट खिडक़ी पर बुरी तरह असफल साबित हुई। इसके बाद गजल गायक बनने के उद्देश्य से पंकज ने उर्दू की तालीम हासिल करनी शुरू कर दी।

# ‘मैं सिर्फ योग्य उम्मीदवारों को मौका देता हूँ’: सलमान खान

# एक और अदालत केन्द्रित फिल्म ‘बदला’, क्या ‘पिंक’ के स्तर को छु पाएगी

birthday special,some interesting facts of pankaj udhas who gave ghazal singing a new phase,ghazal singer,top 5 songs of pankaj udhas

वर्ष 1976 में पंकज को कनाडा जाने का अवसर मिला और वह अपने एक मित्र के यहां टोरंटो में रहने लगे। उन्हीं दिनो अपने दोस्त के जन्मदिन के समारोह में पंकज को गाने का अवसर मिला। उसी समारोह में टोरंटो रेडियो में हिंदी के कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाले एक सज्जन भी मौजूद थे। उन्होंने पंकज उधास की प्रतिभा को पहचान लिया और उन्हें टोरंटो रेडियो और दूरदर्शन में गाने का मौका दे दिया।

# ‘गली बॉय’ के इस सितारे ने जीता अमिताभ का दिल, मिले फूल और चिट्ठी

# ‘टोटल धमाल’: माधुरी दीक्षित के करिअर की सबसे बड़ी ओपनर बनी

birthday special,some interesting facts of pankaj udhas who gave ghazal singing a new phase,ghazal singer,top 5 songs of pankaj udhas

लगभग दस महीने तक टोरंटो रेडियो और दूरदर्शन में गाने के बाद पंकज का मन इस काम से उचाट हो गया। इस बीच कैसेट कंपनी के मालिक मीरचंदानी से उनकी मुलाकात हुई और उन्हें अपनी नई एलबम आहट में पार्श्वगायन का अवसर दिया। यह अलबम श्रोताओं के बीच काफी लोकप्रिय हुआ।

# जब तक जीवित हूं महिलाओं के प्रति भेदभाव के खिलाफ लड़ता रहूंगा: अमिताभ बच्चन

# वर्ष 2020 जनवरी, दूसरे शुक्रवार को प्रदर्शित होगी इस 100 करोड़ी सितारे की फिल्म

birthday special,some interesting facts of pankaj udhas who gave ghazal singing a new phase,ghazal singer,top 5 songs of pankaj udhas

वर्ष 1986 में प्रदर्शित फिल्म 'नाम पंकज के' सिने कैरियर की महत्वपूर्ण फिल्मों में एक है। यूं तो इस फिल्म के लगभग सभी गीत सुपरहिट साबित हुए लेकिन पंकज उधास की मखमली आवाज में चिट्ठी आई है वतन से चिट्ठी आई है गीत आज भी श्रोताओ की आंखो को नम कर देता है।इस फिल्म की सफलता के बाद पंकज को कई फिल्मों में पाश्र्वगायन का अवसर मिला। इन फिल्मों में गंगा जमुना सरस्वती, बहार आने तक, थानेदार, साजन, दिल आश्ना है, फिर तेरी कहानी याद आई, ये दिल्लगी, मोहरा, मै खिलाड़ी तू अनाड़ी, मंझधार, घात और ये है जलवा प्रमुख हैं।

# एक दशक, 18 फिल्में, 9 हिन्दी, 4 पुरस्कार: यह है ‘उरी’ की पल्लवी शर्मा उर्फ यामी गौतम

# ‘टोटल धमाल’: ओपनिंग के मामले में अपनी ही फिल्मों से पिछड़े ‘सिंघम’

birthday special,some interesting facts of pankaj udhas who gave ghazal singing a new phase,ghazal singer,top 5 songs of pankaj udhas

पंकज को अपने कैरियर में मान सम्मान भी खूब मिला। इनमें सर्वश्रेष्ठ गजल गायक, के.एल.सहगल अवार्ड, रेडियो लोटस अवार्ड, इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी अवार्ड, दादाभाई नौरोजी मिलेनियम अवार्ड और कलाकार अवार्ड जैसे कई पुरस्कार शामिल हैं। साथ ही गायकी के क्षेत्र में उनके उल्लेखनीय योगदान को देखते हुये उन्हें 2006 में पदमश्री पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया।

# रणवीर सिंह : 2018 का धमाकेदार अंत, 2019 की शुरूआत होगी शानदार

# रैपर बने ईशान खट्टर, गली बॉय के मोइन के रैप पर किया रैप, तारीफ में पढ़े कशीदे

birthday special,some interesting facts of pankaj udhas who gave ghazal singing a new phase,ghazal singer,top 5 songs of pankaj udhas

पंकज अब तक 40 एलबम के लिये पार्श्वगायन कर चुके हैं। इनमें नशा, हसरत, महक, घूंघट, नशा 2,अफसाना, आफरीन, नशीला, हमसफर, खूशबू और टुगेदर प्रमुख हैं। पंकज आज भी अपने पार्श्वगायन से श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर रहे हैं

# ‘द स्काई इज पिंक’ की प्रदर्शन तिथि घोषित, प्रियंका चोपड़ा के साथ नजर आएंगे ‘मिल्खा’

# कंफर्म: 19 साल बाद भंसाली और सलमान का हुआ ‘संगम’, बनेगी नई प्रेम कहानी

Advertisement